केजरीवाल: वाड्रा मामले पर और तथ्य सोमवार को

अरविंद केजरीवाल (फ़ाइल)
Image caption रॉबर्ट वाड्रा संपत्ति मामले पर डीएलएफ़ की सफ़ाई को अरविंद केजरीवाल ने झूठ का पुलिंदा बताया है.

जनलोकपाल के सहारे राजनीति की राह पकड़ने वाले अरविंद केजरीवाल ने रॉबर्ट वाड्रा की संपत्ति के मामले में रियल स्टेट कंपनी डीएलएफ़ की सफ़ाई को 'अर्धसत्य और झूठ का पुलिंदा' क़रार दिया है.

अरविंद केजरीवाल ने डीएलएफ़ की सफ़ाई पर अपनी प्रतिक्रिया अपने ट्विटर एकाउंट पर डाली है.

केजरीवाल ने कहा है कि डीएलएफ़ ने अपने बयान में बहुत सारी जानकारियों को छुपाया है. उन्होंने लिखा है कि वो इन सबका जवाब सोमवार को देंगे.

उन्होंने रॉबर्ट वाड्रा पर कटाक्ष करते हुए लिखा, "क्या रॉबर्ट वाड्रा डीएलएफ़ के बयान को सही मानते हैं या इस मामले में उनका जवाब कुछ और है? हम उनकी प्रतिक्रिया के लिए शुक्रगुज़ार होंगे."

डीएलएफ़ ने अपने बयान में कहा था कि कंपनी ने सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा को कोई भी संपत्ति कौड़ियों के मोल नहीं दी है, या कंपनी ने किसी तरह से उनका फ़ायदा नहीं उठाया है जिसके बदले में रॉबर्ट वाड्रा को कुछ दिया गया हो.

भावुक हुए वाड्रा

अरविंद केजरीवाल और उनके तैयार हो रहे राजनीतिक दल के शीर्ष नेता और मशहूर वकील प्रशांत भूषण ने आरोप लगाया है कि रियल स्टेट कंपनी डीएलएफ़ ने रॉबर्ट वाड्रा को कई मकान बहुत सस्ते दामों पर दिए, जो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद और कंपनी के बीच बड़ी लेन-देन का हिस्सा थे.

वाड्रा ने इस मामले पर ख़ामोशी अख़्तियार कर रखी थी.

लेकिन उन्होंने अपने फ़ेसबुक एकाउंट पर जब बयान दिया तो वो काफ़ी भावुक था. वाड्रा ने लिखा, "मुझे लेकर आप लोगों की जो चिंता है उसके लिए मैं शुक्रिया अदा करता हूं. लेकिन मैं ठीक हूं और सारी नकारात्मकताओं से जूझ सकता हूं."

रॉबर्ट वाड्रा ने आगे कहा है, "जो मुझे प्यारे थे उन्हें मैंने खो दिया, इससे बुरा क्या हो सकता है?"

वाड्रा का ये बयान कि उन्होंने प्रियजनों को खोया है उनकी बहिन मिशेल की मौत के संदर्भ में है, जिनकी एक कार दुर्घटना में मौत हो गई थी.

इसके अलावा उनके भाई रिचर्ड ने आत्महत्या कर ली थी और उनके पिता का भी पिछले दिनों निधन हुआ था. ये सब पिछले 11 वर्षों के भीतर हुआ है.

संबंधित समाचार