तेंदुलकर को ऑस्ट्रेलिया का प्रतिष्ठित सम्मान

 मंगलवार, 16 अक्तूबर, 2012 को 14:36 IST तक के समाचार
सचिन तेंदुलकर

ऑस्ट्रेलिया के महान क्रिकेटर डॉन ब्रेडमैन ने भी सचिन तेंदुलकर की तारीफ़ की थी

भारत के मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को 'ऑर्डर ऑफ ऑस्ट्रेलिया' सम्मान दिया जाएगा.

इसकी घोषणा भारत की यात्रा पर आईं ऑस्ट्रेलिया की प्रधानमंत्री जूलिया गिलार्ड ने मंगलवार को की.

ये सम्मान ऑस्ट्रेलिया के किसी नागरिक या किसी विदेशी व्यक्ति को अभूतपूर्व काम के लिए दिया जाता है.

क्रिकेट में कई रिकॉर्ड सचिन के नाम है. हाल ही में वे राज्यसभा का सदस्य भी मनोनीत किए गए हैं.

39 वर्षीय सचिन फ़िलहाल टी-20 चैंपियन लीग में खेलने के लिए दक्षिण अफ्रीका में हैं.

दूसरे व्यक्ति

"ये सम्मान बहुत विशेष होता है और ये ऑस्ट्रेलिया के नागरिक या गैर ऑस्ट्रेलियाई नागरिक को बिरले ही मिलता है. इस बार ये विशेष सम्मान एक बेहतरीन और बहुत विशेष क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को दिया जा रहा है"

जूलिया गिलार्ड

पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी के बाद तेंदुलकर दूसरे व्यक्ति हैं जिन्हें ऑस्ट्रेलिया ने ये सम्मान दिया है.

सोराबजी को वर्ष 2006 में ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच विधि के क्षेत्र में काम करने के लिए ऑर्डर ऑफ ऑस्ट्रेलिया सम्मान दिया गया था.

संवाददाताओं से बातचीत में प्रधानमंत्री जूलिया गिलार्ड का कहना था, ''क्रिकेट एक ऐसा खेल है जो ऑस्ट्रेलिया और भारत को जोड़ता है. ये दोनों ही देश क्रिकेट के दीवाने हैं. मुझे खुशी है कि सचिन तेंदुलकर को ऑर्डर ऑफ ऑस्ट्रेलिया का सदस्य बनाया जा रहा है.''

उन्होंने कहा,''ये सम्मान बहुत विशेष होता है और ये ऑस्ट्रेलिया के नागरिक या गैर ऑस्ट्रेलियाई नागरिक को बिरले ही मिलता है. इस बार ये विशेष सम्मान एक बेहतरीन और बहुत विशेष क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को दिया जा रहा है.''

इससे पहले वेस्टइंडीज़ के क्रिकेट खिलाड़ी ब्रायन लारा को वर्ष 2009 में इस सम्मान से नवाज़ा गया था.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.