फै़ज़ाबाद: ईद के लिए सुरक्षा के विशेष इंतज़ाम

फ़ैज़ाबाद में गश्त लगाते सिपाही
Image caption फ़ैज़ाबाद में दुर्गा प्रतिमा के विसर्जन के दौरान हिंदू-मुस्लिम समुदायों के बीच हिंसक झडपें शुरू हुई थीं जिसमें दो लोग मारे गए.

उत्तर प्रदेश के कर्फ़्यू वाले फैज़ाबाद-अयोध्या शहर में स्थिति नियंत्रण में है.

शहर के पुलिस कमिश्नर मधुसूदन रायज़ादा ने बीबीसी को बताया, "शहर में कोई तनाव नहीं है और स्थिति नियंत्रण में है."

उन्होंने ये भी कहा कि ईद पर सुरक्षा के लिए विशेष इंतज़ाम किए जा रहे हैं.

इससे पहले कर्फ्यू लागू होने के बावजूद शुक्रवार की रात दो समुदायों के बीच तनाव बढ़ने की ख़बरें आ रही थीं. कमिश्नर मधुसूदन रायजादा ने फोन पर बताया था कि कई मोहल्लों में लोग एक दूसरे के खिलाफ नारे लगा रहे थे.

पुलिस प्रशासन ने देर रात शहर में गश्त करके हालात को सामान्य बनाने की कोशिश की.

यह तनाव तब बढ़ा जब प्रशासन और पुलिस के आला अफसर देहात के भदरसा कस्बे के दौरे पर गए थे, जहाँ साम्प्रदायिक हिंसा में दो लोगों की मौत हो गयी थी.

बजरसा में कुछ घरों को आग लगाए जाने की ख़बरें आयीं थीं, इसलिए अफसर वहाँ हालत पर काबू करने गए थे.

पुलिस ने दंगे में शामिल कई लोगों को गिरफ्तार किया है.

अधिकारियों का कहना है कि भदरसा कसबे में कुछ भड़काने वाली सामग्री भी मिली है.

रात में फैजाबाद में तनाव की ख़बरें आने के बाद अधिकारी फिर शहर की ओर दौड़े. लखनऊ से भी वरिष्ठ पुलिस अधिकारी फैजाबाद गए.

दो दिन पहले दुर्गा प्रतिमा के विसर्जन के दौरान हिंदू और मुस्लिम समुदायों के बीच हिंसक झडपें शुरू हुई थीं जिसमें दो लोग मारे गए थे.

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि यह एक सुनियोजित दंगा है, जबकि स्थानीय नागरिकों का कहना है कि दंगे की वजह प्रशासन की लापरवाही है.

संबंधित समाचार