केजरीवाल के निशाने पर इस बार रिलायंस

केजरीवाल
Image caption अभी तक रिलायंस या केंद्र सरकार की इस पर प्रतिक्रिया नहीं आई है.

इंडिया अगेंस्ट करप्शन के अरविंद केजरीवाल ने मुकेश अंबानी की रिलायंस कंपनी को अपना ताज़ा निशाना बनाया है.

बुधवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने केंद्र सरकार पर कई बार रिलायंस की तरफदारी करने का भी आरोप लगाया और कहा कि पूर्व तेल मंत्री जयपाल रेड्डी को मंत्रालय से हटाने का कारण यह था कि वे कंपनी का साथ नहीं दे रहे थे.

वहीं मुकेश अंबानी की आरआईएल ने एक बयान जारी कर कहा है, "इंडिया एगेंस्ट करप्शन ने जो आरोप लगाए हैं उनमें कोई सच्चाई नहीं है. हम सब आरोपों से इनकार करते हैं. केजी-डी6 बेसिन योजना पर भारत को गर्व होना चाहिए."

वहीं केजरीवाल ने कहा, ''साल 2004 में यह तय हुआ था कि रिलायंस सवा दो अरब डॉलर पर गैस का यह काम करेगी. इस कीमत को बढ़ाया गया. दो साल में चार गुना दाम बढ़ाए गए और इसे 8.8 अरब डॉलर कर दिया. अब वो इसकी और दाम बढ़ाने की मांग कर रहे हैं.''

उन्होंने कहा, ''पहले कंपनी ने कहा कि सवा दौ डॉलर प्रति यूनिट पर गैस देंगे, फिर कहा कि सवा चार पर देंगे और अब कह रहे हैं कि सवा चौदह पर देंगे.''

उन्होंने आरोप लगाया, ''कंपनी को आठ करोड़ यूनिट गैस बनाने का ठेका दिया गया था. लेकिन वो आज भी केवल तीन करोड़ यूनिट बना रहे हैं. उन्हें उन्हें गैस के 31 कुएं बनाने थे जबकि केवल 13 कुएं काम कर रहे हैं.''

केजरीवाल ने कहा, ''इसका कारण यह है कि कंपनी का कहना है कि सरकार जब सवा चौदह कीमत करेगी तभी गैस देंगे.''

प्रधानमंत्री पर आरोप

उन्होंने प्रधानमंत्री पर भी आरोप लगाया, ''केवल उन्होंने रिलायंस की बात सुनी और कहा कि अटॉर्नी जनरल की सलाह ली जाए.''

उन्होंने कहा कि दरअसल प्रधानमंत्री फंस चुके हैं और वे बेबस हैं और कुछ कर नहीं सकते.

केजरीवाल ने कहा, ''जयपाल रेड्डी ने एक नोट बनाया था कि अगर सरकार रिलायंस की दाम बढ़ाने की दाम बढ़ाने की मांग को मान लेती है तो देश को इससे देश को 45,000 करोड़ का नुकसान होगा जिसके बाद उन्हें हटा दिया गया.''

उन्होंने रिलायंस से किए गए करार को रद्द करने और सीएजी से परफॉरमेंस ऑडिट कराए जाने की मांग की.

इससे पहले केजरीवाल सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वा़ड्रा, रिएल एस्टेट कंपनी और हरियाणा सरकार के बीच सांठगांठ पर आरोप लगा चुके हैं. उन्होंने भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी पर भी आरोप लगाए थे.

संबंधित समाचार