अब फ़ेसबुक पर मेरा नकली एकाउंट: शाहीन

 मंगलवार, 20 नवंबर, 2012 को 15:56 IST तक के समाचार
शाहीन और रेणु श्रीनिवास

शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे के खिलाफ सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर कथित विवादित कमेंट की वजह से पुलिस कार्रवाई की शिकार बनीं शाहीन धाढ़ा का कहना है कि उनके कमेंट की वजह से लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं, इसके लिए वे माफी मांगती हैं.

क्लिक करें फेसबुक एकाउंट बंद, नौ गिरफ्तार

बीबीसी से बातचीत में शाहीन ने कहा, ''ये पूरा मामला मेरे फेसबुक पोस्ट को लेकर हुआ था. लेकिन वो मात्र मेरी सोच थी. दूसरों के सोचने का तरीका मेरी सोच से अलग था. मेरे सोचने के तरीके से कई लोगों को चोट पहुंची, जो मैं नहीं चाहती थी. मैं माफी मांगती हूं.''

फेसबुक पर शाहीन धाढ़ा के नाम से कई प्रोफाइल नज़र आ रहे हैं. इस बारे में पूछे जाने पर शाहीन ने कहा, ''मेरा फेसबुक एकाउंट किसी ने हैक कर लिया है. ये काम कैलीफोर्निया, अमरीका से किसी ने किया है.''

उन्होंने कहा, ''अगर उस एकाउंट पर अब कुछ और लिखा जाता है तो इससे मेरा कुछ लेना-देना नहीं है. ये एक फ़ेक एकाउंट है और मैं इसे अपडेट नहीं कर रही हूं. मैंने अपना एकाउंट बंद कर दिया था लेकिन किसी ने फिर फेक एकाउंट बना दिया है.''

'डोंट सपोर्ट शाहीन धाढ़ा'

फेसबुक

शाहीन ने जो किया, उसे लेकर फेसबुक पर कई तरह की चर्चाएं चल रही हैं. एक ओर जहां कई लोग उनका समर्थन कर रहे हैं, वहीं ऐसे लोगों की संख्या भी कम नहीं है जो उनका विरोध कर रहे हैं.

'डोंट सपोर्ट शाहीन धाढ़ा' फेसबुक पर फिलहाल नजर आ रहा एक ऐसा ही पन्ना है जहां लोगों से शाहीन का समर्थन नहीं करने की अपील की जा रही है.

जब बीबीसी ने शाहीन से पूछा कि क्या इस मामले पर इतना बवाल मचाया जाना ठीक है, उन्होंने कहा, ''ये अनुचित था और इतना हंगामा नहीं मचना चाहिए था. मैं गुस्से में नहीं हूं, लेकिन हैरान जरूर हूं.''

क्या आप फेसबुक पर अपना एकाउंट दोबारा खोलेंगी, ये पूछने पर उन्होंने कहा, ''मैंने अभी इस बारे में नहीं सोचा है. सवाल ये है कि सोच में किस तरह का बदलाव आया है. सबकी अपनी-अपनी सोच होती है. जरूरी नहीं जो मेरी सोच हो, दूसरों की भी हो.''

शाहीन के वकील सुधीर गुप्ता ने बीबीसी को बताया कि वो अभी भी डरी हुई हैं और उन्होंने कुछ दिनों के लिए अपना फोन नंबर बंद कर दिया है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.