ऐसा तो जानवर भी नहीं करते: अमिताभ बच्चन

Image caption घटना के बाद आक्रोशित लोग सड़कों पर उतर आए

फिल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन ने दिल्ली में चलती बस में एक छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना पर अपना आक्रोश जाहिर करते हुए कहा है कि इस तरह का बर्ताव तो जानवर भी नहीं करते हैं.

न्याय बहुत देर से होता है: करीना

ट्विटर पर अपने संदेश में अमिताभ बच्चन ने कहा कि रविवार रात हुई इस घटना के बारे में वो बहुत कुछ कहना चाहते थे, उन्हें इस घटना से बहुत पीड़ा हुई है.

अमिताभ का कहना है, ''मैं उसी दिन बहुत कुछ कह देना चाहता था, लेकिन मैं बेहद परेशान हो उठा था.''

उन्होंने लिखा है, ''दुर्गा, काली, लक्ष्मी...हम इन सभी देवियों को श्रद्धा के फूल चढ़ाते हैं, उनका सम्मान करते हैं. महिलाओं का सम्मान किए जाने की जरूरत है.''

बलात्कार का बहाना

अदाकारा प्रियंका चोपड़ा ने भी इस घटना के बारे में ट्विटर के जरिए अपनी बात कही है.

उन्होंने कहा है, ''ये सिर्फ महिलाओं के खिलाफ अपराध नहीं है, ये पूरे समाज के खिलाफ अपराध है. महिलाएं क्या पहने, क्या नहीं, इस बारे में बहुत कुछ कहा जा चुका है. मैं इन सब बातों को फ़िज़ूल मानती हूं.''

प्रियंका का कहना है, ''किसी महिला का बलात्कार इसलिए नहीं होता कि वह रात में बाहर निकलती है या छोटे कपड़े पहनती है या शराब पीती है, बलात्कार इसलिए होता है क्योंकि कोई बलात्कार करता है और इसका कोई बहाना या स्पष्टीकरण नहीं हो सकता है.''

नपुंसक बना दो

Image caption राजधानी दिल्ली में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुए

सामूहिक बलात्कार की इस घटना पर राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ममता शर्मा का कहना है बलात्कारियों को नपुंसक बना दिया जाना चाहिए.

ममता शर्मा ने बीबीसी से खास बातचीत में कहा, "बलात्कारियों को आजीवन कारावास की सज़ा देनी चाहिए और उन्हें नपुंसक बना देना चाहिए. इस कड़ी सज़ा के बिना काम नहीं बनेगा और ऐसी सज़ा मिलने के बाद ही आरोपी जिंदा रहते हुए भी मरे रहेंगे."

सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई लड़की की हालत गंभीर बनी हुई है.

बुधवार को उसका फिर ऑपरेशन किया गया ताकि उसके पेट में लगी चोटों के बारे में पता लगाया जा सके.

पुलिस ने इस मामले में अभी तक चार अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है जबकि दो लोग अब भी फरार बताए जाते हैं.

संबंधित समाचार