बलात्कार पर दिल्ली का गुस्सा उबला

Image caption इस घटना के सामने आने के 48 घंटों बाद भी जनता का गुस्सा शांत नहीं हो रहा है.

रविवार शाम दिल्ली की सड़कों पर घूमती बस में बलात्कार के बाद शुरू हुए प्रदर्शनों का सिलसिला बुधवार को भी नहीं थमा है और सडकें गुस्से में भरे हुए नागरिकों से पटी हुई हैं.

बुधवार को दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के घर के बाहर हो रहे एक प्रदर्शन के गुस्साए प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए दिल्ली पुलिस को पानी की बौछारों का सहारा लेना पड़ा.

दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस के मुख्यालय के बाहर भी सुबह से ही बड़ा प्रदर्शन हुआ जिसके कारण दूर-दूर तक की सड़कों का यातायात प्रभावित हुआ. दिल्ली पुलिस मुख्यालय के बाहर हुए प्रदर्शन में समाजवादी पार्टी से राज्य सभा सदस्य जया बच्चन ने भी भाग लिया.

घटनाक्रम से जुड़ी 10 प्रमुख बातें

इसी तरह से भारतीय जनता युवा मोर्चा ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर इस बलात्कार के खिलाफ एक प्रदर्शन का आयोजन किया.

संसद के अंदर

उधर संसद के भीतर भारत के गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने बुधवार को उन क़दमों की जानकारी दी जो की इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए उठाए जा रहे हैं.

शिंदे ने संसद को बताया कि उन्होंने पुलिस और परिवहन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वो तत्काल अभियान चला कर दिल्ली में बसें चला रहे लोगों की पृष्ठभूमि की जांच करें.

शिंदे ने यह भी बताया कि दिल्ली पुलिस को शहर की तमाम बसों से पर्दे और शीशों को ढंकने वाले काली फिल्मों को तत्काल हटवाने के निर्देश भी दिए गए हैं.

इसके अलावा इस बात के लिए भी निर्देश दिए गए हैं कि ड्राइवर का नाम और मोबाइल नंबर बस में प्रमुखता से बड़े अक्षरों में लिखा हो. शिंदे ने कहा कि साथ ही सरकार बसों में हुए अपराधों के लिए बस मालिकों को भी ज़िम्मेदार ठहराएगी और उन्हें इस की ताकीद की जाएगी कि वो बसों को अपने घरों के पास खड़ा करें ना कि ड्राइवरों के घरों के पास.

अदालत भी नाराज़

इस घटना पर टिप्पणी करते हुए दिल्ली हाई कोर्ट ने भी कहा है कि वो दिल्ली इस सामूहिक बलात्कार की वारदात से "क्षुब्ध" है. अदालत ने इस बारे में महिला वकीलों को आश्वासन दिया है कि वो इस “शर्मनाक” घटना पर ध्यान दे रही है.

हाई कोर्ट ने पुलिस को भी फटकार लगाई है. अदालत ने कहा, “पुलिस और न्यायापालिका में जनता का विश्वास खत्म हो रहा है. इस घटना से पहले पुलिस क्या कर रही थी?”

संबंधित समाचार