मोदी जीते मगर कांग्रेस का नहीं हुआ सफ़ाया

 गुरुवार, 20 दिसंबर, 2012 को 20:38 IST तक के समाचार
नरेंद्र मोदी

मोदी की जीत में शायद ही किसी को शक रहा हो

गुजरात में मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का करिश्मा कायम है और भारतीय जनता पार्टी ने उनके नेतृत्व में लगातार तीसरी बार जीत दर्ज की है. वहीं हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने सत्ताधारी भाजपा को सत्ता से बाहर कर दिया है.

गुरुवार को गुजरात के सभी 182 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में सुबह आठ बजे से वोटों की गिनती शुरू हुई.

क्लिक करें देखिए नतीजों की जानकारी लाइव

राज्य भर में 33 मतगणना केंद्र बनाए गए और इस काम में लगभग आठ हजार कर्मचारी लगाए गए.

गुजरात में भाजपा को पिछली बार से सिर्फ़ दो ही सीटें कम मिलीं. उसे 115 सीटों पर जीत हासिल हुई है जबकि कांग्रेस को 61, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को दो, जनता दल यूनाइटेड को एक और अन्य दलों को तीन सीटें मिली हैं.

गुजरात में मोदी

गुजरात- कुल सीटें 182

पार्टी सीटें
भाजपा 115
कांग्रेस 61
एनसीपी 02
जद (यू) 01
अन्य 03

चुनावी भविष्यवाणियों के अनुरूप गुजरात में क्लिक करें नरेंद्र मोदी अपनी सत्ता कायम रखने में कामयाब हुए. इस जीत के साथ ही भाजपा में मोदी का असर बढ़ने की अटकलें लगाई जा रही हैं. पहले से ही उन्हें प्रधानमंत्री पद का दावेदार समझा जाता है.

जीत की हैट ट्रिक बनाने के बाद नरेंद्र मोदी ने देर शाम मीडिया और समर्थकों की मौजूदगी में गुजरात की जनता का अभार जताते हुए वादा किया कि वे अगले पांच साल तक आम लोगों की सेवा में जुटे रहेंगे.

भाजपा अध्यक्ष क्लिक करें नितिन गडकरी ने कहा, "गुजरात की जनता ने पांचवीं बार भाजपा को और तीसरी बार नरेंद्र मोदी को चुना है."

गुजरात में कांग्रेस के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल की गुजरात परिवर्तन पार्टी ने भी मोदी को टक्कर देने की कोशिश की लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिली.

कांग्रेस नेता और विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा है कि गुजरात में उनकी पार्टी की सीटें बढ़ी हैं और वोट प्रतिशत में भी इजाफा हुआ है.

वहीं चुनाव नतीजों पर कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनुसिंघवी ने कहा, "हां, गुजरात में मोदी के मुताबिक ही हुआ, लेकिन इन परिणामों का ये अर्थ नहीं है कि राष्ट्रीय स्तर पर उन्हें स्वीकार्यता मिल गई है."

दरअसल चुनाव के दौरान भाजपा की ओर से कहा जा रहा था कि इस बार कांग्रेस का गुजरात में 'समूल नाश' हो जाएगा मगर भाजपा पिछली बार से दो सीटें कम ही जीत सकी और कांग्रेस की स्थिति पिछली बार से बुरी नहीं हुई.

हिमाचल में कांग्रेस

हिमाचल प्रदेश- 68

पार्टी सीटें
कांग्रेस 36
भाजपा 25
अन्य 06
वीरभद्र सिंह

कांग्रेस ने हिमाचल में वीरभद्र के नेतृत्व में चुनाव लड़ा

दूसरी तरफ हिमाचल प्रदेश में विपक्षी कांग्रेस ने पूर्ण बहुमत हासिल कर लिया है.

कांग्रेस 68 सदस्यों वाली विधानसभा में 36 सीटों पर विजय हासिल करने में सफल रही जबकि सत्ताधारी भाजपा 25 सीटों पर जीत सकी.

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पांच बार राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके वीरभद्र सिंह का कहना है कि राज्य के मुख्यमंत्री का निर्धारण कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी.

उधर मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कहा, “हम जनता के फैसले को स्वीकार करते हैं. हमने अपनी पूरी कोशिश की थी.”

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.