'दो दिन में पांच बार' पाकिस्तान ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन

 बुधवार, 16 जनवरी, 2013 को 11:38 IST तक के समाचार
एलओसी

नियंत्रण रेखा पर पिछले कुछ दिनों से लगातार गोलीबारी हो रही है

भारत ने आरोप लगाया है कि दोनों देशों के बीच सोमवार को हुई फ्लैग मीटिंग के बाद से अब तक पाकिस्तान पांच बार नियंत्रण रेखा पर संघर्ष-विराम का उल्लंघन कर चुका है.

सेना के अधिकारियों का कहना है कि मंगलवार शाम पाकिस्तानी सैनिकों की ओर से पुंछ जिले में स्थित भारतीय सीमा चौकियों पर दो बार गोलीबारी की गई.

जम्मू में सेना के प्रवक्ता कर्नल आरके पाल्टा के मुताबिक पाकिस्तानी सैनिकों ने शाम को करीब आठ बजे कृष्णा घाटी क्षेत्र के नांगी टीकरी में अचानक गोलीबारी शुरू कर दी.

हालांकि इस गोलीबारी में किसी के हताहत होने की कोई ख़बर नहीं है.

कर्नल पाल्टा के मुताबिक कुछ देर तक गोलियां चलती रहीं लेकिन भारत की ओर से इसका जवाब नहीं दिया गया.

"पाकिस्तान का ये आरोप गलत है. भारतीय सैनिक नियंत्रण रेखा को पार नहीं करते. हम मानवाधिकारों को हमेशा ध्यान में रखते हैं. यदि किसी पाकिस्तानी सैनिक की मौत हुई होगी तो वो जवाबी कार्रवाई में हुई होगी."

जनरल बिक्रम सिंह, भारत के सेनाध्यक्ष

इस बीच सेनाध्यक्ष जनरल बिक्रम सिंह ने कहा है कि भारतीय सैनिक कभी नियंत्रण रेखा को पार नहीं करते हैं और नियंत्रण रेखा पर यदि किसी पाकिस्तानी सैनिक की मौत हुई होगी तो वो जवाबी कार्रवाई में हुई होगी.

पिछले दिनों नियंत्रण रेखा पर मारे गए भारतीय सैनिक हेमराज के गाँव पहुँचे जनरल सिंह ने कहा, "पाकिस्तान का ये आरोप गलत है. भारतीय सैनिक नियंत्रण रेखा को पार नहीं करते. हम मानवाधिकारों को हमेशा ध्यान में रखते हैं. यदि किसी पाकिस्तानी सैनिक की मौत हुई होगी तो वो जवाबी कार्रवाई में हुई होगी."

फ्लैग मीटिंग

इससे पहले भी सोमवार को पाकिस्तानी सैनिकों की ओर से उस वक्त भी संघर्ष विराम का उल्लंघन होता रहा जब दोनों देशों के ब्रिगेडियर स्तर के सैन्य अधिकारियों के बीच फ्लैग मीटिंग हो रही थी.

यही नहीं, संघर्ष विराम उल्लंघन के ये मामले ऐसे समय में आए हैं जब एक दिन पहले ही भारतीय थलसेना प्रमुख जनरल बिक्रम सिंह ने यह कहकर पाकिस्तान को सख्त संदेश दिया था कि भारत उचित समय पर और उचित जगह पर पाकिस्तान को जवाब देगा.

एक दिन पहले ही भारत के प्रधानमंत्री भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान की ओर कड़ा रुख़ इख़्तियार करते हुए कहा था कि नियंत्रण रेखा पर हुई बर्बर घटना के बाद पाकिस्तान के साथ सामान्य रिश्ते रख पाना संभव नहीं है.

राजधानी दिल्ली में मंगलवार को सेना दिवस के मौक़े पर आयोजित एक समारोह में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि नियंत्रण रेखा पर जो भी हुआ वो स्वीकार्य नहीं है.

उन्होंने ये भी कहा कि भारतीय सैनिकों की बर्बर हत्या करने वालों के ख़िलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.

बाद में केंद्रीय विदेश मंत्री सलमान ख़ुर्शीद ने भी एक प्रेस कांफ़्रेंस में कहा कि पाकिस्तान के सामने इस मामले में सभी तथ्य और सबूत रखे गए हैं, अब देखना है कि पाकिस्तान इस मामले में क्या क़दम उठाता है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.