पीड़िता के भाई को मॉरिशस की मदद

विरोध प्रदर्शन
Image caption सामूहिक बलात्कार की घटना से पूरे देश को हिलाकर रख दिया था

दिल्ली सामूहिक बलात्कार मामले की पीड़िता के परिवार के मुताबिक मॉरीशस की ओर से उन्हें वायदा किया गया है कि मॉरिशस उनके बेटे के डॉक्टर बनने का पूरा खर्चा उठाएगा.

बीबीसी से बातचीत में बेटी के पिता ने बताया कि उन्हें मॉरीशस की ओर से एक लाख का चेक और 50,000 रुपए नकद दिए गए थे.

पिता ने बताया कि उनका छोटा बेटा जो कुछ हफ्तों में ही कक्षा दस की परीक्षा देगा, वो डॉक्टर बनना चाहता है जबकि बड़ा बेटा इंजीनियर बनने की ख्वाइश रखता है.

इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने परिवार को 20 लाख रूपये का चेक दिया था और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने का वायदा किया था.

बेटी के नाम पर क़ानून

दिल्ली सरकार और भाजपा से भी परिवार को आर्थिक सहायता मिली है.

ये पूछे जाने पर कि वो इस धन का क्या करेंगे, उनके पिता ने कहा, ''हम गरीब आदमी हैं. हमारे लिए एक रुपया भी बहुत कीमत रखता है. हमें कोई भी मदद करेगा, वो हमारे लिए बहुत होगा.''

उन्होंने कहा कि परिवार इस धन का व्यय बच्चों पर करेगा ताकि उन्हें जिंदगी में दिक्कत नहीं आए.

बीबीसी से बात करते हुए उनके पिता ने साफ किया कि वो चाहते हैं कि उनके बेटी का नाम किसी नए और कड़े सरकारी कानून या फिर नए शैक्षणिक संस्थान से ही जुड़े, अन्यथा नहीं.

संबंधित समाचार