कश्मीर में बम धमाके में दो बच्चों की मौत

कश्मीर
Image caption स्थानीय लोगों का आरोप है कि धमाके में सेना के जवानों का हाथ है.

भारत प्रशासित कश्मीर के दक्षिणी जिले रजौरी में एक बम विस्फोट में दो स्कूली बच्चों की मौत हो गई.

बच्चों की मौत से स्थानीय लोगों में रोष है और वे विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

वहां रहने वाले लोगों का कहना है कि नजदीक की जगह पर तैनात सेना के जवानों ने यह बम रखा था.

पुलिस ने बताया कि घटना के वक्त वे बच्चे स्कूल से घर लौट रहे थे.

उन्होंने बताया कि रास्ते में मिली ‘विस्फोटक सामाग्री’ से खेलने की वजह से यह धमाका हुआ.

भारत प्रशासित कश्मीर के सरहदी शहर रजौरी में यह धमाका हुआ.

स्थानीय लोगों में आक्रोश

नियंत्रण रेखा के नजदीक के कश्मीरी हलकों में बिखरी हुई विस्फोटक सामाग्री मौजूद है जिनके फट जाने से कभी-कभी जानोमाल का नुकसान होता रहता है.

रजौरी के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मुबाशिर लतीफी ने बीबीसी से कहा, “यह साफ है कि बच्चों ने विस्फोटक सामाग्री से छेड़-छाड़ की थी और हम उस पदार्थ का परीक्षण कर रहे हैं”.

स्थानीय नागरिक तारिक शॉल ने बताया कि सैकड़ों लोग नौ साल के शाजीन कौसर और सात वर्षीय खुर्शीद हसन का शव के साथ कई मील पैदल चल कर जिला मुख्यालय पहुंच गए.

तारिक ने कहा,“प्रदर्शनकारी चाहते हैं कि विस्फोट में शामिल सेना के जवानों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए”.

संबंधित समाचार