कश्मीर में गोली मार पुलिसकर्मियो की हत्या

कश्मीर
Image caption अफ़ज़ल गुरू की मौत के बाद कश्मीर में व्यापक प्रदर्शन हुए थे.

भारत प्रशासित कश्मीर में अधिकारियों का कहना है कि कुछ अज्ञात बंदूक़धारियों ने एक भीड़ भरे इलाक़े में दो पुलिस वालों की हत्या कर दी है.

घटना राजधानी श्रीनगर से 70 किलोमीटर दूर स्थित हंदवारा के बस स्टैंड के पास की है.

हंदवारा सोपोर से लगा है - जो संसद हमले के दोषी अफ़ज़ल गुरू का गृहनगर है. भारत सरकार ने अफ़ज़ल गुरू को हाल में ही फांसी दे दी थी.

अफ़ज़ल गुरू की फांसी के बाद कश्मीर में माहौल काफ़ी तनावपुर्ण हो गया था और वहां लंबे समय तक कर्फ्यू लगाना पड़ा था.

चरमपंथी

हंदवारा के एक उच्च पुलिस अधिकारी मुहम्मद असलम ने बीबीसी को बताया, "कश्मीर पुलिस के दो कांस्टेबल सामान्य ड्यूटी पर मौजूद थे जहां साइलेंसर लगी पिस्तौल से लैस लोगों ने उनको अपना निशाना बनाया. दोनों, आज़ाद चंद और संतोष की मौत घटनास्थल पर ही हो गई."

इस सप्ताह में ही, अज्ञात हमलावरों ने राज्य सरकार में मौजूद नेशनल कांफ्रेंस के एक सदस्य की बारामुल्ला ज़िले में हत्या कर दी थी.

पुलिस का कहना है कि हमला चरमपंथियों ने किया था, लेकिन अभी तक किसी भी ग्रुप ने घटना की ज़िम्मेदारी क़बूल नहीं की है.

ये हमला ठीक ऐसे समय हुआ है जब सरकार स्थानीय पुलिस को और अधिक शक्तियां देने की बात कर रही है.

पृथकतावादी समूहों और राजनीतिक दलों ने इसका कड़ा विरोध किया है.

संबंधित समाचार