मिज़ोरम में हथियारों का बड़ा ज़खीरा बरामद

Image caption त्रिपुरा और मिज़ोरम के ज़रिए ये हथियार बांग्लादेश के लिए रवाना होने वाले थे.

मिज़ोरम में दो दिनों की पुलिस कार्रवाई के बाद हथियारों का एक बड़ा ज़खीरा पकड़ा गया है.

मिज़ोरम पुलिस के डीजीपी आलोक वर्मा ने बीबीसी संवाददाता अमिताभ भट्टासाली से हुई बातचीत में बताया कि राजधानी आयजॉल में दो अलग-अलग जगहों पर की गई छापेमारी में 46 एके सैंतालिस, तीन लाइट मशीनगन, बंदूकें और बड़ी संख्या में गोला बारूद बरामद हुआ है.

इस कार्रवाई में असम राइफल्स और मिज़ोरम पुलिस की टीम ने संयुक्त रुप से काम किया. इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. ये लोग मूल रुप से बर्मा के रहने वाले हैं लेकिन कुछ समय से भारत में रह रहे थे.

'बांग्लादेश था ठिकाना'

ये बरामदगी सैरंग पुलिस थाना इलाके से की गई है.

शुरुआती जांच के बाद मिज़ोरम के अतिरिक्त डीजीपी एके पटनायक का दावा है कि पकड़े गए हथियारों में से कुछ सिंगापुर के बने हुए हैं और भारतीय राज्यों त्रिपुरा और मिज़ोरम के ज़रिए ये हथियार बांग्लादेश के लिए रवाना होने वाले थे.

हालांकि पुलिस के पास फिलहाल इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि हथियारों का ये ज़खीरा बांग्लादेश में किस संगठन या व्यक्ति विशेष के पास जा रहा था.

संबंधित समाचार