इससे जिस्म पर कहीं दर्द ना उग आएं

  • 20 मार्च 2013
bikini waxing
Image caption बालों को हटाने के लिए 'ब्राजिलियन' या दूसरे तरह की वैक्सिंग से संक्रमण का खतरा पैदा हो सकता है.

खूबसूरत और ग्लोइंग त्वचा पाने के लिए आजकल बिकनी वैक्सिंग खूब प्रचलन में है. क्या आप भी बिकनी लाइन के बालों को हटाने के लिए वैक्सिंग और शेविंग का सहारा लेते हैं?

अगर ऐसा है, तो ठहरिए. इससे संक्रमण का खतरा पैदा हो सकता है. एक शोध के अनुसार जो महिलाएं खूबसूरत बिकनी लाइन की दीवानी हैं और बहुत बड़ी तादाद में पुरुष भी ऐसा कर रहे है.

शोधकर्ताओं के अनुसार वैक्सिंग और शेविंग से त्वचा को बहुत महीन तरीके से हानि पहुंचती है. इससे त्वचा को पॉक्सवायरस जैसे जीवाणुओं का खतरा पैदा हो जाता है. इन खतरों के बारे में शोधकर्ताओं ने ब्रितानी मेडिकल पब्लिकेशन को आगाह किया.

इस संक्रमण का पता लगाने के लिए शोधकर्ताओं के एक दल ने पॉक्सवायरस से संक्रमित 30 नए मरीजों का अध्ययन किया. और पाया कि इनमें मोल्यूस्कम कैन्टागिओज्म नाम का पॉक्सवायरस मौजूद है. इस संक्रमण से पीड़ित मरीजों का इलाज फ्रांस के प्राइवेट क्लीनिक में किया गया.

Image caption पुरुषों के लिए बिकनी वैक्सिंग अब कोई असामान्य बात नहीं रह गई.

पुरुषों में भी संक्रमण

आजकल अपनी त्वचा से अनचाहे बालों को हटाने का चलन महिलाओं ही नहीं, पुरुषों में भी बेहद लोकप्रिय होता जा रहा है.

इसलिए त्वचा से संबंधित इस संक्रमण का खतरा पुरुषों में भी उतना ही बढ रहा है.पॉक्सवायरस से संक्रमित इन 30 मरीजों में से चौबीस मरीज पुरुष थे.

इन सभी 30 मरीजों के बिकनी लाइन के जिन हिस्सो में वैक्स, शेव या ट्रीमिंग की गई थी, वहां जख्म पाए गए.

मोल्यूस्कम कैन्टागिओज्म की बात करें तो, यह बेहद संक्रामक रोग है. यह रोग संक्रमित व्यक्ति की त्वचा से दूसरे व्यक्ति की त्वचा तक बहुत आसानी से फैलता है. यही नहीं, संक्रमित व्यक्ति के इस्तेमाल किए गए तौलिए या दूसरी चीजों को छूने से भी यह फैलता है.

आमतौर पर तो यह संक्रमण खुद-ब-खुद खत्म हो जाता है. यह भी सच है कि इसमें सिवाय लाल धब्बों के और किसी भी तरह का लक्षण नहीं पाया जाता.

त्वचा के संक्रमित हिस्से को यदि दबाया जाए तो वहां से खून रिसने लगता है. दर्द भी होता है. यही नहीं. बाद में त्वचा पर निशान भी रह जाते हैं. इसलिए त्वचा विशेषज्ञ इसे छूने तक से मना करते हैं.

इसके अलावा उस हिस्से को छेड़ने से संक्रमण के फैलने का खतरा भी पैदा हो जाता है.

शोधकर्ताओं का कहना है कि प्यूबिक हेयर को हटाने से भी कई दूसरे ‘मामूली’ संक्रमण जन्म लेते हैं. जैसे जननांगों पर मस्से का उभर आना.

बिकनी लाइन वैक्सिंग को और सुरक्षित बनाने की जरूरत है ताकि हम गुड लुक के साथ साथ हेल्दी बॉडी भी पा सकें.

संबंधित समाचार