आईपीएल से जुड़ने के लिए तीन ख़ास ऐप्स

  • 4 अप्रैल 2013
कटरीना कैफ

अगले 55 दिनों तक आईपीएल का छठा संस्करण मीडिया की सुर्खियां बटोरेगा. साल दर साल इसकी लोकप्रियता में इज़ाफा करने के लिए आयोजक नई-नई कोशिशें करते रहते हैं.

चाहे वो 'हाई रिज़ाल्यूशन' वाले कैमरों के ज़रिए बेहतर टीवी प्रसारण हो या मैचों का प्रसारण यूट्यूब के ज़रिए इंटरनेट पर.

इस बार भी कुछ ऐसा ही करने की पूरी तैयारी हो चुकी है और इसके लिए ज़रिया बनेंगे स्मार्ट फोन.

इन फोन पर आईपीएल के लिए कुछ खास ऐप्स उपलब्ध होंगे. जिनके ज़रिए इस टूर्नामेंट से जुड़ी खबरें, स्कोर, तस्वीरें वगैरह देखे जा सकते हैं.

आईपीएल से जुड़ी ऐप्स, एंड्रॉयड, आईओएस (एप्पल) और विंडो फोन पर उपलब्ध होंगी. ये ऐप्स ज़्यादातर फ्री हैं. पेश हैं तीन सबसे खास ऐप. और उनके बारे में खास जानकारी.

1. बीसीसीआई की ऐप:

Image caption बीसीसीआई की ऐप में आप पूरे टूर्नामेंट का शैड्यूल देख सकते हैं. लेकिन इसे डाउनलोड होने में खासा वक्त लगता है.

इसे फ्री में डाउनलोड कर आप पूरे टूर्नमेंट का शैड्यूल देख सकते हैं.

क्या है खास:

  • फेसबुक और ट्विटर पर आईपीएल से संबंधित जो बातें ट्रेंड कर रही हैं उन्हें दिखाता है.
  • आईपीएल से जुड़ी ताज़ातरीन जानकारियां
  • आईपीएल से जुड़े वीडियो

क्या है बेकार:

  • डाउनलोड होने में खासा वक़्त लगता है.
  • फोंट काफी छोटा है.

(ये ऐप आईओएस और एंड्रॉयड दोनों पर मौजूद है)

2. आईपीएल लाइव 2013

ये ऐप आपके स्मार्ट फोन पर ज़्यादा मेमोरी स्पेस नहीं लेगा और ना ही आपके इंटरनेट कनेक्शन का यूसेज़ बढ़ाएगा.

क्या है खास:

  • ऐप चालू करते ही लाइव स्कोर की जानकारी
  • चैट ऑप्शन: जिन-जिन लोगों के फोन पर ये ऐप चालू है उनसे आप चैट कर सकते हो. साथ ही आईपीएल से जुड़ी सारी जानकारी हासिल कर सकते हो.

क्या है बेकार:

  • पिछले सीज़न से जुड़ी जानकारी और स्कोर भी ये ऐप दिखाता है.

  • इसमें विज्ञापन भी आते रहते हैं.
  • दिखने में उतना आकर्षक नहीं. ग्राफिक्स और तस्वीरों की कमी है.

3. किंग्स इलेवन पंजाब ऐप:

Image caption किंग्स इलेवन पंजाब का ऐप, यूज़र फ्रेंडली है लेकिन खासा मेमोरी स्पेस लेता है.

इस टीम ने अपने प्रशंसकों के लिए ये ऐप शुरू किया है. ये फ्री ऐप आपको टीम के हर सदस्य की जानकारी देता है. साथ ही टीम के हर मैच के शैड्यूल की भी जानकारी देता है.

क्या है खास:

  • ऐप, बेहतरीन तरीके से डिज़ाइन किया गया है और यूज़र फ्रेंडली है.
  • फेसबुक या ट्विटर से इस ऐप में लॉग इन करके टीम के सदस्यों को संदेश भेज सकते हैं. इसमें 'फैन वॉल' का ऑप्शन सबसे अनोखा है. जो आपको टीम से जोड़ता है.

क्या है बेकार:

  • पंजाब के अलावा किसी और टीम की कोई जानकारी नहीं है.
  • ऐप थोड़ा हैवी है यानी काफी मेमोरी स्पेस लेता है. साथ ही इसे खोलते ही टीम का थीम सॉन्ग अचानक बजने लगता है.
Image caption आईपीएल के प्रमोशन के लिए इस्तेमाल किया गया थीम सॉन्ग 'जंपिग जपाक' अब ऐप के रूप में भी उपलब्ध है.

इसके अलावा आईपीएल से पहले इसके प्रमोशन के लिए टीवी पर इस्तेमाल किया जाने वाला थीम सॉन्ग 'जंपिग जपाक' भी है, जिसका ऐप भी उपलब्ध है. इसमें टूर्नामेंट में लगने वाले हर चौके और छक्के पर आपको डांस सिखाने के लिए आएंगी कोरियोग्राफर फराह खान. ऐप का नाम भी है 'जंपिंग जपाक'.

अगर किसी के पास स्मार्ट फोन नहीं भी है तो इंटरनेट पर आईपीएल की वेबसाइट और उनके ट्विटर से भी आईपीएल से जुड़ा जा सकता है.

तो इस बीच अगर आपने कोई आईपीएल ऐप डाउनलोड किया है या हमारी बताई कोई ऐप जो आपको पसंद आई हो तो उसके बारे में आप अपनी राय हमारे फेसबुक पेज पर दे सकते हैं. बीबीसी के फेसबुक पेज पर जाने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

https://www.facebook.com/bbchindi (फ़ेसबुक पर हमारा पन्ना लाइक करें या ट्विटर पर @BBCHindi को फ़ॉलो करके जानें दुनिया का ताज़ा हाल.)

वैसे कई लोगों ने फेसबुक पर इस संबंध में अपनी राय व्यक्त भी की है. उनमें से हम कुछ विचार यहां लिख रहे हैं.

अहमद अंसारी: मैं IPL20.com इस्तेमाल कर रहा हूं.

विवेक ठाकुर: सब बकवास है.

पुष्पदीप कुमार जायसवाल: मैं क्रिकबज़ (crickbuzz) इस्तेमाल करता हूं.

विकी जैन: मैं बैट 365 (bet365) इस्तेमाल करता हूं.

एस के राय: आईपीएल का प्रचार पूरी मीडिया जोर शोर से कर रही है वही केजरीवाल जी अनशन में कई दिनों से बैठे हैं उसका कोई प्रचार नहीं. मुझे यह एहसास हो रहा है की 80% आज की तारीख मे पैसा बोलता है बाकी सब बेकार है. इन राजनेताओं ने पूरे भारत के लोगों को राजनीति के षडयंत्र में तब्दील कर दिया है. बहुत दुख हो रहा है.

नरेंद्र किमोर विश्नोई: ये आईपीएल क्या होता है और आजकल कहां रहता है.

सुनयना के पासवान: बीबीसी हिंदी अपनी गुणवत्ता को कायम रखे, नहीं तो फेसबुक पर अलग से प्रोफाइल बना ले.

(बीबीसी हिंदी सोशल मीडिया पर भी उपलब्ध है. क्लिक करें फ़ेसबुक पर हमारा पन्ना लाइक करें या ट्विटर पर क्लिक करें @BBCHindi को फ़ॉलो करके जानें दुनिया का ताज़ा हाल.)

बीबीसी के फेसबुक पन्ने पर हमारे कई पाठकों ने भी बताया कि आईपीएल फॉलो करने के लिए वो कौनसे ऐप्स इस्तेमाल कर रहे हैं.

पुष्पदीप कुमार जैसवाल, रमेश के थापा, कुंदन झा और मो. सरफराज़ आलम ने कहा कि वो 'क्रिकबज़' इस्तेमाल करते रहे हैं.

वहीं आशीष तिवारी और कुलदीप वर्मा ने कहा कि वो 'याहू क्रिकेट', योगेश कुमार और विनोद पांडे ने कहा कि वो 'क्रिकइनफो' इस्तेमाल कर रहे हैं.

आपके सुझावों के लिए बहुत - बहुत शुक्रिया.

संबंधित समाचार