दिल्ली में बस में नाबालिग के साथ बलात्कार

Image caption महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं दिल्ली

दिल्ली के सुल्तानपुरी में एक नाबालिग बच्ची के साथ शनिवार को बस में बलात्कार के आरोप में पुलिस ने बस के ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है.

दिल्ली पुलिस के मुताबिक बस ड्राइवर अपने पड़ोस में रहने वाली इस नाबालिग लड़की को जानता था. ड्राइवर बस में मौजूद था और बच्ची खेलते हुए उसकी बस में दाखिल हुई जिसके बाद ड्राइवर ने उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की.

पुलिस के मुताबिक आरोपी का नाम राकेश कौशल है और उसकी उम्र 42 साल है. बच्ची की उम्र 10 साल बताई जा रही है.

घटना के बाद बच्ची ने इस बारे में अपने घर वालों को बताया. इसके बाद पुलिस के सूचना दी गई और ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया.

पिछले साल दिसंबर में दिल्ली में चलती हुई बस में फिजियोथेरेपी की एक छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार के बाद मौत हो गई थी.

दिल्ली बलात्कार केस

Image caption सामूहिक बलात्कार की घटना के बाद, महिलाओं की सुरक्षा की मांग के साथ दिल्ली में कई प्रदर्शन किए गए.

सामूहिक बलात्कार के मुख्य आरोपियों में से एक राम सिंह ने कुछ दिन पहले दिल्ली की तिहाड़ जेल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

इस घटना के सामने आने के बाद लोगों ने सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया था. महिलाएं, लड़कियां, छात्र और समाज के दूसरे तबके के लोगों ने कई दिनों तक लगातार विरोध प्रदर्शन किए.

अमरीकी सरकार ने भी लड़की को 'अंतर्राष्ट्रीय साहसिक महिला' के पुस्कार से सम्मानित किया था.

इसके बाद दिल्ली पुलिस ने महिलाओं के लिए बेहतर सुरक्षा इंतज़ाम करने के दावे किए थे और केन्द्र सरकार ने बलात्कार-विरोधी कानून को और कड़ा बनाने की पेशकश की.

मौजूदा क़ानून में संशोधन लोक सभा और राज्य सभा में पारित किया जा चुका है और अब उसे राष्ट्रपति के पास भेज दिया गया है.

संबंधित समाचार