सचिन ने कहा आईपीएल को अलविदा

  • 27 मई 2013

कोलकाता के ईडन गार्डेन में मुंबई इंडियंस के आईपीएल 6 का चैम्पियन बनने के साथ ही सचिन तेंदुलकर ने इस टूर्नामेंट को अलविदा कहने का फ़ैसला कर लिया.

मैच ख़त्म होने के तत्काल बाद उन्होंने कहा‍ कि अब वे आईपीएल-7 में मुंबई इंडियंस टीम के खिलाड़ी के रूप में मैदान पर नजर नहीं आएंगे.

हाथ में लगी चोट की वजह से सचिन चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ फाइनल समेत तीन मैच नहीं खेल सके थे.

आईपीएल 6 का फाइनल - तस्वीरों में

तेंदुलकर ने अपनी टीम की खिताबी जीत के तुरंत बाद कहा, ‘यह मेरा आखिरी आईपीएल था. मैं समझता हूं कि यह आईपीएल को अलविदा कहने का सही समय है. मुझे वास्तविकता स्वीकार करनी होगी. मैंने फैसला किया है कि यह मेरा आखिरी आईपीएल है. इससे बढिया समापन नहीं हो सकता.’

लंबा इंतज़ार

सचिन के संन्यास के बारे में जब महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने उनसे पूछा कि क्या वह अगले साल वानखेड़े में मुंबई इंडियंस का पहला मैच खेलकर संन्यास लेना पसंद नहीं करेंगे? इस पर सचिन का जवाब था, ‘मैंने विश्वकप के लिए 21 साल तक इंतजार किया लेकिन आईपीएल खिताब के लिए केवल छह साल तक इंतजार करना पड़ा. यह मेरे लिए बहुत खास है.’

आईपीएल की जीत का जश्न

उन्होंने कहा, ‘मैं ट्रॉफी चूमने के लिए बेताब हूं. यह सभी को शुक्रिया कहने का सही समय है.’

सचिन जब आईपीएल से संन्यास लेने का ऐलान कर रहे थे, तब दर्शक दीर्घा में उनकी पत्नी डॉक्टर अंजलि, बेटा अर्जुन और बेटी सारा भी मौजूद थीं.

पिछले साल दिसंबर में एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले तेंदुलकर इस बार आईपीएल में अपेक्षित प्रदर्शन नहीं कर पाए थे.

उन्होंने 14 मैचों में 22.07 की औसत से 287 रन बनाए और उनका उच्चतम स्कोर 54 रन रहा.

तेंदुलकर 13 मई को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में बल्लेबाजी के दौरान चोटिल हो गए थे और इसके बाद वह किसी मैच में नहीं खेल पाए.

वो साल 2008 में आईपीएल की शुरुआत से ही मुंबई इंडियंस का हिस्सा थे.

सचिन ने इंडियन प्रीमियर लीग में 78 मैचों में 34.83 की औसत से 2334 रन बनाए, जिसमें एक शतक और 13 अर्धशतक शामिल हैं.

कुछ ही समय पहले उन्होंने एक दिवसीय मैच से संन्यास की घोषणा की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें .आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार