मोदी की तुलना केवल सरदार पटेल से हो सकती है: शिवराज सिंह चौहान

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्विटर पर कहा है कि गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के कद और काम की तुलना केवल सरदार पटेल से ही हो सकती है.

नरेंद्र मोदी की रविवार को हैदराबाद में रैली है जिसे चुनाव अभियान का आगाज़ माना जा रहा है.

दरअसल राजनीतिक हल्कों में कई बार शिवराज सिंह चौहान और नरेंद्र मोदी के बीच तुलना होती रही है. और कई लोग प्रतिद्वंद्विता की बात करते रहे हैं. हालांकि शिवराज सिंह समय समय पर कहते रहे हैं कि उनकी शुभकामनाएँ नरेंद्र मोदी के साथ हैं.

कुछ दिन पहले ईद के एक कार्यक्रम में शिवराज सिंह चौहान टोपी पहनकर आए थे. वहीं नरेंद्र मोदी ने एक कार्यक्रम के दौरान टोपी पहनने से मना कर दिया था.

चौहान के कार्यक्रम के बाद अभिनेता रज़ा मुराद ने किसी का नाम लिए बग़ैर कहा था, “यह प्लैटफॉर्म राजनीतिक बात करने का नहीं है, लेकिन बहुत से ऐसे मुख्यमंत्री हैं, जिन्हें शिवराज चौहान जी से सबक लेना चाहिए कि टोपी पहनने से किसी के मज़हब पर कोई आँच नहीं आती है. किसी की खुशियों में शामिल होने से किसी का धर्म भ्रष्ट नहीं होता है.”

आडवाणी ने भी की थी तारीफ़

इससे पहले ख़ुद भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने शिवराज की तारीफ़ों के पुल बाँधे थे.

उन्होंने एक कार्यक्रम में कहा था, "गुजरात तो पहले ही स्वस्थ था, उसको आपने (नरेंद्र मोदी ने) उत्कृष्ट बना दिया है. उसके लिए आपका अभिनंदन. लेकिन छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश तो बीमारू प्रदेश थे, उनको स्वस्थ बनाना... ये उपलब्धि है."

आडवाणी ने तो यहाँ तक कहा था, “जैसे अटल बिहारी वाजपेयी विकास की कई योजनाओं को लागू करने के बाद भी नम्र बने रहे और घमंड से दूर रहे, उसी तरह शिवराज सिंह चौहान ने भी मध्यप्रदेश जैसे बीमारू राज्य की तस्वीर बदल दी."

इसके बाद अटकलें लगने लगीं कि ये चौहान को नरेंद्र मोदी के मुकाबले खड़ा करने की आडवाणी की कोशिश है.

लालकृष्ण आडवाणी के बयान से शुरू हुई बात इतनी बढ़ गई थी कि भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष राजनाथ सिंह को सफ़ाई देनी पड़ी थी.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

संबंधित समाचार