गिरावट का दौर जारी, सेंसेक्स 291 अंक लुढ़का

  • 19 अगस्त 2013
शेयर बाजार
Image caption भारतीय अर्थव्यवस्था में गिरावट ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है

भारत के शेयर बाजारों में सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को भारी गिरावट दर्ज की गई. इससे पहले शुक्रवार को रिकॉर्ड गिरावट आई थी.

सोमवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज(बीएसई) का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 290.66 अंक गिरकर 18307.52 पर बंद हुआ.

पढ़िएः रुपया तो गिरा, आपका क्या होगा

वहीं शुक्रवार को सेंसेक्स में 769 अंकों की गिरावट दर्ज की गई थी, जो चार साल की सबसे बड़ी गिरावट थी.

93 अंक गिरा निफ्टी

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी सूचकांक 93.10 अंक गिरकर 5414.75 पर बंद हुआ.

पढ़िएः क्या आर्थिक संकट की दहलीज पर खड़ा है भारत

बीते 14 अगस्त को भारतीय रिजर्व बैंक ने रुपए की क़ीमत में जारी गिरावट को थामने के लिए विदेशों में भारतीय कंपनियों के निवेश को हतोत्साहित करने सहित कई कड़े कदमों की घोषणा की थी.

Image caption गोते खा रहा है शेयर बाजार

हालांकि इन कदमों का कोई ख़ास असर होता नहीं दिख रहा है. सोमवार को एक डॉलर की कीमत 63 रुपए के स्तर तक पहुंच गई.

ऐसी संभावना जताई जा रही है कि रुपए में गिरावट को रोकने के लिए रिजर्व बैंक और कदमों की घोषणा कर सकता है, जिसे लेकर निवेशकों में एक तरह का भय है.

इसके अलावा वैश्विक बाज़ार में गिरावट और अमरीकी सरकार के अगले महीने के शुरू में प्रोत्साहन पैकेज वापस लेने की संभावना ने बाजार से निवशकों को धन निकालने के लिए मजबूर किया.

किन शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट

सेंसेक्स में शामिल आईसीआईसीआई बैंक, भारती एयरटेल और बजाज ऑटो के शेयरों में सबसे अधिक गिरावट दर्ज की गई.

शुक्रवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 563.23 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री की थी.

सोमवार को एशिया के प्रमुख शेयर बाजारों में गिरावट दर्ज की गई. हॉन्गकॉन्ग, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया और ताइवान के शेयर बाजारों में 0.13-0.76 फीसदी तक की गिरावट दर्ज की गई. हालांकि जापान और चीन के शेयर बाजारों में 0.79-0.83 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार