मुंबई रेप: पांचवां संदिग्ध दिल्ली में गिरफ्तार

मुंबई गैंगरेप
Image caption एक बंद पड़े मिल में गुरुवार देर शाम फोटोजर्नलिस्ट के साथ गैंगरेप हुआ

मुंबई में एक 22 वर्षीय महिला पत्रकार के बलात्कार मामले में पुलिस ने पांचवें संदिग्ध को भी गिरफ़्तार कर लिया है. उसे दिल्ली से पकड़ा गया.

पुलिस का कहना है कि पांचवें संदिग्ध का नाम सलीम है जो वारदात के बाद गोवंडी भाग गया था. इस मामले में पहले संदिग्ध की गिरफ्तारी के बाद उसने कुर्ला टर्मिनल से दिल्ली की ट्रेन पकड़ी और वो पुरानी दिल्ली में अपने एक रिश्तेदार के यहां छिपा हुआ था.

पुलिस के अनुसार उसके रिश्तेदारों को नहीं पता था कि उसके खिलाफ सामूहिक बलात्कार के जुड़े आरोप हैं और उन्होंने उसे शरण दे दी. दिल्ली से उसकी देश से बाहर चले जाने की योजना थी.

इससे पहले रविवार सुबह ही चौथा संदिग्ध मुंबई में पकड़ा गया. इसका नाम पुलिस ने कासिम बंगाली बताया है.

गिरफ्तारियां

शनिवार को मुंबई पुलिस ने गैंगरेप मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया था और एक अन्य व्यक्ति की गिरफ्तारी शुक्रवार को ही हो गई थी.

अंधेरी क्षेत्र के डीसीपी अम्बादास पोटे ने बीबीसी को बताया कि शनिवार को गिरफ्तार हुआ तीसरा संदिग्ध मुंबई के गोवंडी इलाके से पकड़ा गया. पुलिस ने उसका नाम सिराज रहमान बताया है.

इससे पहले शनिवार को ही एक अन्य संदिग्ध को भी गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया था. पुलिस ने इसका नाम विजय जाधव बताया है और ये भी जानकारी दी है कि उसने अपना गुनाह क़बूल कर लिया है. 20 से 25 साल के बीच की उम्र के इस शख्स को अदालत ने 30 अगस्त तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

इस बीच सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई लड़की ने पुलिस में अपना बयान दर्ज करवाया है.

गुरुवार को रात आठ बजे के करीब लोवर परेल के शक्ति मिल इलाके में पाँच लोगों ने कथित तौर पर एक 22 वर्षीय फोटो पत्रकार के साथ बलात्कार किया था.

पुलिस के मुताबिक बलात्कार के वक्त पीड़ित युवती शक्ति मिल कंपाउंड में अपने एक दोस्त के साथ तस्वीरें लेने गई हुई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार