जीडीपी ने दिखाया भारतीय अर्थव्यवस्था को आईना

मुख्य बिंदु

  • 2013 की पहली तिमाही में विश्व सकल घरेलू उत्पाद 2.1 %
  • 2012 की पहली तिमाही में विश्व सकल घरेलू उत्पाद 3.1 %
  • भारत एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है
  • भारत-उत्पादन विकास दर: जून 2012-13 में 1.1 % से -2.1% तक गिरा
  • भारत-निर्माण क्षेत्र विकास दर: जून 2012-13 में 2.6 % से -2.2 तक गिरा
  • भारत-सर्विस सैक्टर जून 2012-13 विकास दर 11 साल के न्यूनतम 6.6 %
  • अगस्त में डॉलर के मुकाबले में रुपए की कीमत रिकॉर्ड 68.8 तक पहुँची
  • पिछले तीन महीने में डॉलर के मुकाबले रुपए की कीमत औसत 20 % गिरी
  • अगस्त में सोने की कीमत रिकॉर्ड प्रति किलो 34,500 रुपए तक पहुँचे
  • वर्ष 2012 में भारत का सोना आयात, सकल घरेलू उत्पाद का 3 % था
  • भारत के पास विदेशी मुद्रा भंडार लगभग 278 अरब डॉलर

लाइव टेक्स्ट

रिपोर्टिंग

  • पंकज प्रियदर्शी, अतुल संगर, सुशील कुमार झा, फ़ैसल मोहम्मद अली 

अतिम अपडेट 30 अगस्त 2013 पर

16:39

अब से कुछ समय बाद भारत में पहली तिमाही के सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी के आँकड़े आने वाले हैं. भारतीय अर्थव्यवस्था पर चिंताओं के बीच देश की कैसी तस्वीर उभर पर आने वाली है. इस पर हमारी पल-पल नज़र रहेगी. आपके साथ मैं हूँ पंकज प्रियदर्शी और मेरे साथ आप तक जानकारी पहुँचाएँगे अतुल संगर, सुशील कुमार झा और फ़ैसल मोहम्मद अली.

 

16:48

भारतीय जनता पार्टी देश की मौजूदा आर्थिक स्थिति के लिए यूपीए सरकार को ज़िम्मेदार ठहरा रही है. पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने तो यहाँ तक कह दिया है कि जल्द चुनाव ही इसका निदान है.

16:53

विश्लेषकों का मत यही है कि नए वित्त वर्ष की पहली तिमाही के आंकड़े निराशाजनक हो सकते हैं.

17:00

"हम तो पहले से कह रहे हैं कि हमें पहली तिमाही से ज़्यादा उम्मीद नहीं है क्योंकि इस दौरान अर्थव्यवस्था में मंदी के संकेत रहे. हमें बस चाढ़े चार से पांच प्रतिशत के बीच विकास दर की उम्मीद है".

-सीआईआई के महानिदेशक चंद्रजीत मुखर्जी

 

17:04

"आर्थिक विकास के इस दौर में कृषि क्षेत्र में 1 करोड़ 40 लाख नौकरियां और फैक्ट्रियों से 53 लाख नौकरियां जा चुकी थीं."

- कृषि विशेषज्ञ देवेंद्र शर्मा

17:07

भारतीय रुपए ने पिछले कुछ दिनों में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की है और मनमोहन सिंह ने इसके लिए बाहरी आर्थिक कारणों को ज़िम्मेदार बताया है.

17:09

बढ़ती महंगाई के बीच सोना भी आम लोगों की पहुँच से दूर होता जा रहा है. सोने की क़ीमत प्रति 10 ग्राम 32 हज़ार से भी ऊपर पहुँच गई है.

17:12

"अंतरराष्ट्रीय स्थिति का रुपए समेत कई मुद्राओं पर असर हुआ है. उदारवादी सुधार व्यवस्था बनी रहेगी और इस संदर्भ में पीछे हटने का सवाल ही नहीं है."

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, संसद को संबोधित करते हुए