हमसे पूछिए बीबीसी हिंदी फेसबुक पर

बीबीसी पर चल रहे विशेष सीज़न के तहत हमने बीबीसी हिंदी के फेसबुक पर आपसे कहा था अपने सवाल रखने के लिए- इंटरनेट टेक्नोलॉजी और सोशल मीडिया के बारे में.

आपने कई सवाल पूछे हैं जिसमें से हमने कुछ सवाल चुने हैं जिसके जवाब हम विशेषज्ञों से जानकारी लेकर आपके लिए लेकर आए हैं.

सोशल मीडिया से जुड़े सवाल

सवाल- प्रेम सिंह यादव – क्या फेसबुक अकाउंट हमेशा के लिए बंद नहीं हो सकता.

जवाब – आप अपना अकाउंट डिएक्टिवेट कर सकते हैं. लेकिन आपने जो जानकारी डाली है फेसुबक पर वो फेसबुक के पास रहेगी और आप जब कभी चाहेंगे दोबारा जाकर लॉग इन कर सकते हैं.

सवाल- अरुण कुमार यादव- फेसबुक का पासवर्ड भूल जाने के बाद क्या करना चाहिए.

जवाब- फॉरगॉट पासवर्ड के विकल्प पर जाकर क्लिक करें जिसके बाद आपसे फेसबुक आपका सिक्योरिटी सवाल पूछेगा. आप ये जवाब देंगे तो आपको नया पासवर्ड बनाने का विकल्प मिल जाएगा.

सवाल- राम चरण मौर्या- अगर हम अपने कमेंट को किसी और से शेयर नहीं करना चाहते हैं तो क्या करना चाहिए.

जवाब- कमेंट न करें क्योंकि ये बहुत मुश्किल है कि आप कमेंट करें और वो सिर्फ कुछ लोग देख पाएं सारे लोग नहीं.

सवाल- धीरज कुमार- फेसबुक इस्तेमाल कर के कैसे पैसा कमाया जा सकता है

जवाब- इसका कोई निश्चित तरीका नहीं है. कुछ लोग अपना सामान फेसबुक के ज़रिए बेच रहे हैं और लाभ कमा रहे हैं. आपने ऐसी रिपोर्टें बीबीसी पर भी देखी होंगी कि कई लोग अपना पूरा कारोबार फेसबुक के ज़रिए ही कर रहे हैं. फेसबुक आपको अपने सामान की मार्केटिंग का अच्छा मौका उपलब्ध कराता है. इसके ज़रिए आप अपना सामान बेचकर पैसा कमा सकते हैं.

सवाल- विशाल सहाय- मेरी फोटो कोई डाउनलोड न कर पाए. इसके लिए क्या सेटिंग्स होती है.

जवाब- आप जब तस्वीर अपलोड करें तो इसे सिर्फ कुछ लोगों के साथ ही शेयर करें जिन्हें आप जानते हों. सेंटिंग्स में फ्रेंड्य या फैमिली कर लें.

सवाल- राधिका राधिका त्रिपाठी- अगर आप किसी ऐप के ज़रिए फेसबुक का इस्तेमाल कर रही हैं तो प्राइवेट कर पाना मुश्किल होगा. इसका आसान उपाय ये है कि आप एक बार डेस्कटॉप कंप्यूटर पर लॉग इन करें और प्रोफाइल को प्राइवेट कर लें. जिसके बाद फोन के ज़रिए फेसबुक पर जाएं.

सवाल- हैप्पी सिंह- फेसबुक पर मुझे फॉलो करने वाले लोगों को कैसे हटाऊं

जवाब- अगर आप किसी को फॉलो कर रहे हैं तो अनसब्सक्राइब करें लेकिन खुद को फॉलो करने वाले को हटाने के लिए आपको उस व्यक्ति को ब्लॉक करना पड़ेगा.

सवाल- निसार अली- जब मैं अपने व्हाट्सऐप अकाउंट का इस्तेमाल बंद करता हूं तो इंटरनेट बंद नहीं होता.

जवाब- सिस्टम सेट अप में जाकर लॉग ऑफ करें.

इंटरनेट और टेक्नोलॉजी से जुड़े सवाल

सवाल- शुभ्रांशु सिंह- बैंडविथ औऱ ब्रडबैंड में क्या अंतर है. ब्लूटूथ क्या है और कैसे काम करता है.

जवाब- बैंडविथ किसी चीज को मापने जैसा होता है जैसे चौड़ाई या लंबाई मापते हैं. यह मापता है कि हर सेकंड कितना डाटा किसी केबल या वायरलैस चैनल के ज़रिए गुजरता है.

ब्राडबैंड एक तारों वाला या बेतार चैनल है जो एक बड़ी मात्रा में कई तरह के सिग्नल ट्रैफिक को एक साथ एक जगह से दूसरी जगह ले जाता है. टेलीकॉम सेक्टर में मान लीजिए किसी ब्राडबैंड की बैंडविथ अगर 256 केबीपीएस है उसे कमर्शियल माना जाता है.

ब्लूटूथ एक वायरलेस टेक्नोलॉजी है जिसके जरिए कम दूरी में डाटा का आदान प्रदान हो सकता है. इसे मुख्य रुप से कीबोर्ड, मोबाइल हैंडसेट, माउस इत्यादि में इस्तेमाल किया जाता है.

सवाल- वारिस मोहसिन समेत कई लोग- 4जी और 5जी क्या है और ये 2जी से कैसे अलग है.

जवाब- ये सब वायरलेस कम्युनिकेशन की अलग अलग पीढ़ियां हैं. हर कम्युनिकेशन में अलग फीचर और डाटा की अलग स्पीड होती है. दूसरी पीढी जो 1992 में आई थी उसे 2जी नाम दिया गया जिसमें एसएमएस की सुविधा जोड़ी गई. जिसके बाद जीपीआरएस में और डाटा सपोर्ट जोड़ा गया लेकिन ये बहुत धीमा रहा. 2001 में 3जी आया जो कि अब तक की सबसे लोकप्रिय टेक्नोलॉजी है. इसमें वेब ब्राउज़िंग, ईमेल और वीडियो का सपोर्ट दिया गया जिसकी स्पीड दो एमबीपीएस तक रखी गई. आखिरकार 4 जी आया जिसमें नई तकनीक आई और स्पीड 100 एमबीपीएस तक बढ़ी. अभी तक 5जी जैसी कोई सेवा नहीं आई है लेकिन माना जाता है कि 2020 तक ये सेवा भी आएगी.

इसमें ध्यान रखने वाली बात ये है कि ये सैद्धांतिक स्पीड हैं. असली स्पीड डिपेंड करती है कि एक ग्रुप में कितनी बैंडविथ मिली है आपको. मतलब अगर आपके पास अकेले 2 एमबीपीएस की लाइन है तो आपका इंटरनेट बहुत तेज़ी से 3जी सेवाएं देगा आपको लेकिन मुंबई जैसे बड़े शहर में 3 जी स्लो हो जाएगा 2 एमबीपीएस पर भी.

सवाल- संदीप सांगवान- इंटरनेट पर सूचनाएं कैसे सेव की जाती हैं. इंटरनेट दुनिया भर से कैसे जुड़ा है और इसे कैसे मेनटेन करते हैं.

जवाब- सूचनाएं असल में कंप्यूटरों और स्टोरेज सिस्टम्स में रखी जाती हैं दुनिया के कई इलाक़ों में. ऐसे करीब 90 करोड़ स्टोरेज सिस्टम हैं दुनिया भर में. बीबीसी जैसी वेबसाइट, या गूगल याहू जैसे ग्रुप की सूचना दुनिया के कई जगहों पर रखी जाती है. जैसे बीबीसी का एक सर्वर फार्म लंदन में है. एक न्यूयॉर्क में और बैकअप भी ताकि कोई नुकसान हो जाए तो दोबारा वो सूचनाएं हम आप तक ला सकें.

इंटरनेट एक तरह का नेटवर्क है जो कई कंप्यूटरों से जुड़ा होता है तारों और नेटवर्कों से जरिए. इसमें ज़मीन, समुद्र के अंदर और सेटेलाइट के ज़रिए तार जुड़े होते हैं दूसरे बेतार उपकरणों से. ऐसे करीब एक अरब कंप्यूटर हैं जो पूरी दुनिया में हैं. ज्यादातर कंप्यूर अमरीका में हुआ करते थे लेकिन अब यूरोप, एशिया और दुनिया भर में कंप्यूटर हैं जो इंटरनेट से जुड़ सकते हैं.

सवाल- हेमंत दिगरसकर- अपनी तस्वीर गूगल पर कैसे अपलोड कर सकता हूं.

गूगल पर आप कोई तस्वीर अपलोड नहीं कर सकते. असल में आप अपनी या किसी और वेबसाइट मसलन फेसबुक के अपने पन्ने पर या ट्विटर पर फोटो अपलोड करेंगे तो गूगल अपनी सर्च में आपकी तस्वीर खोज लेगा. अगर आप फेसबुक पर हैं तो आपने अपनी तस्वीर डाली है तो गूगल पर अपना नाम लिखिए और इमेजेज़ में क्लिक कीजिए. आप अपनी तस्वीर देख पाएंगे.

सवाल – कई लोगों ने पूछा है ये सवाल. विंडोज़ और एंड्रायड में क्या बेहतर है.

विंडोज़ एक सॉफ्टवेयर प्लेटफॉर्म है कंप्यूटर पर. इसके अलावा मैक ओएस और लिनक्स जैसे प्लेटफॉर्म हैं. दूसरी तरफ एंड्रायड मोबाइल फोनों के लिए केंद्रित सॉफ्टवेयर है. कौन बेहतर है इसका कोई सीधा जवाब संभव नहीं है. अगर आप मोबाइल अनुभव की बात कर रहे हैं तो आजकल कई फोन में एंड्रायड सिस्टम है. सैमसंग, एलजी, एचटीसी, माइक्रोमैक्स एंड्रायड का इस्तेमाल करते हैं.

दूसरी तरफ बहुत कम फोन विंडोज़ के प्लेटफॉर्म पर हैं. नोकिया जिसे पिछले दिनों माइक्रोसॉफ्ट ने खरीदा है, वो अब कुछ ताकतवर विंडोज़ फोन लेकर आया है जैसे लूमिया 925 और लूमिया 1020 जिसमें ताकतवर कैमरे भी हैं.

सवाल- वाई फाई क्या होता है और कैसे काम करता है (दो तीन लोगों ने पूछा है ये सवाल)

जवाब- वाई फाई वो टेक्नोलॉजी है जो उपकरणों को बिना तार के इंटरनेट का इस्तेमाल करने देता है और डाटा एक्सचेंज की सुविधा भी. वाई फाई एक स्टैंडर्ड है जिसका मतलब होता है अगर दो उपकरण एक ही वाई फाई का इस्तेमाल करते हैं तो दोनों एक दूसरे से जुड़ सकते हैं.कंप्यूटर, स्मार्टफोन, टेबलेट और कुछ डिजिटल कैमरा वाई फाई का इस्तेमाल कर सकते हैं. हालिया दिनों में ऑडियो प्लेयर्स और लाउडस्पीकर, माइक्स भी वाई फाई का इस्तेमाल कर रहे हैं.

सवाल- व्हाट्सऐप कैसे काम करता है.

जवाब- व्हाह्टऐप एक मैसेजिंग ऐप है जो कई मोबाइल प्लेटफॉर्म पर काम करता है जैसे ऐप्पल, एंड्रायड, ब्लैकबेरी. मैसेज में टेक्स्ट के अलावा आप तस्वीर, ऑडियो और वीडियो भेज सकते हैं. इसके ज़रिए एक दिन में 30 अरब संदेश भेजे जाते हैं और कई देशों में व्हाट्सऐप ने एसएमएस की जगह ले ली है. यह एक डाटा सेवा है इसलिए इस्तेमाल करने वालों को एसएमएस की तरह हर संदेश का पैसा नहीं देना पड़ता.

सोशल मीडिया से जुड़े सवालों का जवाब बीबीसी हिंदी की डिजिटल एडिटर रमा शर्मा ने दिया है जबकि इंटरनेट टेक्नोलॉजी से जुड़े सवालों के जवाब तकनीकी मामलों के जानकार प्रशांतो के राय ने दिए हैं.

(बीबीसी हिन्दी एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार