एन श्रीनिवासन एक बार फिर बने बीसीसीआई अध्यक्ष

N Srinivasan, bcci president, एन श्रीनिवासन, बीसीसीआई अध्यक्ष

एन श्रीनिवासन फिर से भारतीय क्रिकेट बोर्ड, बीसीसीआई के अध्यक्ष चुन लिए गए हैं.

रविवार को चैन्नई में बोर्ड की सालाना बैठक में श्रीनिवासन का निर्विरोध चुनाव हुआ. उनका कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ गया है.

अध्यक्ष पद के लिए वे ही अकेले उम्मीदवार थे इसलिए उनका चुनाव महज़ औपचारिकता माना जा रहा था. उन्हें दक्षिण ज़ोन की सभी छह क्रिकेट एसोसिएशनों का समर्थन था.

इसके बावजूद सुप्रीम कोर्ट के एक फ़ैसला की वजह से श्रीनिवासन फ़िलहाल कार्यभार नहीं संभाल पाएंगे.

बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव आदित्य वर्मा ने श्रीनिवासन को अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने से रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट में मुक़दमा किया था. शुक्रवार को कोर्ट ने श्रीनिवासन को चुनाव लड़ने की इजाज़त तो दे दी लेकिन साथ ही ये भी निर्देश दिया कि अगले आदेश तक वे कार्यभार नहीं संभाल सकते.

श्रीनिवासन आईपीएल-6 में चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक हैं. उनके दामाद गुरूनाथ मयपन्न पर आईपीएल मैचों में सट्टेबाजी के आरोप है.

मयप्पन का नाम सामने आने के बाद एन श्रीनिवासन ने अध्यक्ष के रूप में नियमित कामकाज से अलग होना पड़ा था. इस दौरान उनकी जगह जगमोहन डालमिया बोर्ड देख रहे थे.

नए उपाध्यक्ष, सचिव और कोषाध्यक्ष

अध्यक्ष के अलावा बोर्ड के पांच उपाध्यक्षों का भी निर्विरोध चुनाव हुआ. साथ ही संजय पटेल को बोर्ड का नया सचिव और अनिरुद्ध चौधरी को कोषाध्यक्ष चुना गया.

कांग्रेस नेता और केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला मध्य ज़ोन के, एसके बंसल उत्तर ज़ोन के, रवि सावंत पश्चिम ज़ोन के, शिवलाल यादव दक्षिण ज़ोन के और चित्रक मित्रा पू्र्व ज़ोन के उपाध्यक्ष चुने गए हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक शुक्रवार को बीसीसीआई के मध्य ज़ोन के उपाध्यक्ष सुधीर डाबिर और पश्चिम ज़ोन के उपाध्यक्ष निरंजन शाह को उनके पदों से हटा दिया गया हालांकि दोंनो के कार्यका्ल बढ़ाया जा सकता था.

वहीं बोर्ड के एक और उपाध्यक्ष और भारतीय जनता पार्टी के नेता अरुण जेटली ने अपनी राजनीतिक ज़िम्मेदारियों का हवाला देते हुए पद छोड़ दिया था.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार