पीड़ित महिला पत्रकार ने तहलका छोड़ा

  • 25 नवंबर 2013
तरुण तेजपाल

तहलका पत्रिका के संस्थापक संपादक तरुण तेजपाल पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली महिला पत्रकार ने तहलका से इस्तीफ़ा दे दिया है.

बीबीसी से हुई बातचीत में पीड़ित महिला की सहयोगी रेवती लाल ने ये जानकारी दी.

उधर राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य निर्मला सामंत ने पीटीआई से कहा कि उन्होंने मुंबई पुलिस से बात करके पीड़ित महिला पत्रकार की सुरक्षा के लिए उठाए जा रहे क़दमों की जानकारी ली.

निर्मला सामंत ने कहा, "हमने पुलिस अधिकारी सत्यपाल सिंह और हिमांशु राय से बात करके महिला पत्रकार को दी जा रही सुरक्षा के बारे में पूछा. इसके जवाब में हमें बताया गया कि वे महिला को हर तरह की सुरक्षा मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं."

सामंत ने बताया, "हमने पीड़ित महिला को सभी पुलिस अधिकारियों के नंबर उपलब्ध करवाए हैं, जिनसे वह संपर्क कर सकती हैं और अपनी बात रख सकती हैं."

उन्होंने कहा, "पीड़िता को मजबूती के साथ अपना पक्ष रखना चाहिए क्योंकि अभियुक्त और उसके साथी इस मामले को सहमति से हुई घटना बताने की कोशिश कर रहे हैं."

पीड़िता की शिकायत

सामंत के अनुसार, "पीड़िता को सामने आकर अपना पक्ष रखना चाहिए, अन्यथा पूरी बात महज कहानी बनकर रह जाएगी."

तहलका पत्रिका के संपादक तरुण तेजपाल के ख़िलाफ यौन शोषण के मामले में एफ़आईआर दर्ज हो चुकी है.

पीटीआई के साथ हुई बातचीत में दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "अगर पीड़िता शिकायत दर्ज़ कराती है तो तरुण तेजपाल की गिरफ़्तारी शीघ्र ही संभव है."

अधिकारियों ने कहा कि पुलिस तेजपाल के ख़िलाफ़ कोई भी कार्रवाई करने के पहले मामले को और मजबूत बना लेना चाहती है.

सहायक पुलिस कमिश्नर (अपराध), रवींद्र यादव दिल्ली पुलिस की टीम के साथ तहलका कार्यालय पर होने वाली पूछताछ के दौरान गोवा पुलिस को सहयोग करने के लिए मौजूद थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार