असमः गैंगरेप के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन

  • 27 नवंबर 2013
ब्लात्कार के विरोध में प्रदर्शन

असम के लखीमपुर ज़िल में चार व्यक्तियों ने कथित रूप से एक ऑटो में महिला का बलात्कार किया, उनकी आँखें निकाल लीं, पीटा और चलती ऑटो से बाहर फेंक दिया. इस घटना के ख़िलाफ़ लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ सामूहिक बलात्कार की इस घटना के बाद क्षेत्रीय लोगों में काफ़ी गुस्सा है. लोग दोषियों को कड़ी सज़ा देने का माँग कर रहे हैं.

यह घटना पिछले शुक्रवार को उस समय हुई, जब महिला बोगीनाड़ी में पढ़ने वाली अपनी छह साल की बच्ची को स्कूल से आने के लिए एक शेयर्ड ऑटो से वहाँ जा रही थी.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक़ यह जगह लखीमपुर ज़िला मुख्यालय से 14 किलोमीटर दूर है.

लोगों में गुस्सा

उन्होंने बताया कि चार व्यक्तियों ने महिला के साथ कथित बलात्कारके बाद महिला की आँखें निकाल लीं, उनके सर और गर्दन पर चोट की.

स्थानीय लोगों ने पीड़िता को ऑटो से बाहर फेंकते हुए देखा, यह घटना राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित बोगीनाड़ी पुलिस चौकी से पाँच सौ मीटर की दूरी पर हुई.

पुलिस ने सूचना मिलने के बाद पीड़ित को स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया.

वहाँ से महिला से गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज ले जाया गया, यहाँ इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

महिला संगठनों और स्थानीय लोगों ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-52 पर महिला का शव रखकर उसे अवरुद्ध कर दिया. लोगों ने घटना की निंदा करते हुए, पीड़िता के लिए न्याय की माँग करते हुए दोषियों को गिरफ़्तार करने की माँग की.

ज़िला प्रशासन ने लोगों को दोषियों को गिरफ़्तार करने का भरोसा दिलाया, इसके बाद प्रदर्शन कर रहे लोगों ने राष्ट्रीय राजमार्ग से जाम हटाया.

इस बीच पुलिस ने दो लोगों को पकड़ा है और घटना के संबंध में पूछताछ कर रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार