अन्ना के अनशन के दौरान हुई तू-तू मैं-मैं

अन्ना हज़ारे

जन लोकपाल बिल को संसद में पास कराने के लिए महाराष्ट्र के रालेगण सिद्धि गांव में अनशन पर बैठे अन्ना हज़ारे के मंच पर पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह और आम आदमी पार्टी के नेता गोपाल राय आपस में उलझ गए.

अन्ना के अनशन के चौथे दिन उन्हें समर्थन देने के लिए वीके सिंह रालेगण सिद्धि पहुंचे थे.

उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि कुछ लोगों ने अन्ना के आंदोलन का फ़ायदा उठाया और फिर उनका साथ छोड़कर चले गए.

वीके सिंह की इस बात को सुनकर मंच के नीचे बैठे आम आदमी पार्टी के नेता गोपाल राय नाराज हो गए. इसके बाद दोनों के बीच कहा-सुनी हो गई.

दोनों के बीच इस तू-तू मैं-मैं से अन्ना नाराज हो गए.

अन्ना ने गोपाल राय को फटकार लगाते हुए अनशन स्थल चले जाने के लिए कह दिया.

भाषण

Image caption जनरल वीके सिंह ने कहा कि कुछ लोगों ने अन्ना का फ़ायदा उठाया.

अन्ना के मंच से दिए गए अपने भाषण में पूर्व जनरल सिंह ने कहा, "आज हम अपने देश को आगे बढ़ाना चाहते हैं, तो ज़रूरत है एक होकर लड़ने की न कि अलग-अलग गुट या दल बनाकर फ़ायदा उठाने की."

इसके बाद आप के नेता गोपाल राय नाराज हो गए और उन्होंने इस बयान पर एतराज जताया.

जवाब में जनरल सिंह ने कहा, "गोपाल जी, अगर आपको बुरा लग रहा है तो बाद में मुझसे बात कर लीजिएगा, जो काम आप लोगों ने गलत किया है वह मुझे बोलने दीजिए."

जब गोपाल राय शांत नहीं हुए तो अन्ना ने माइक अपने हाथ में लेते हुए कहा, "गोपाल, आपको कल मैंने कहा था कि यहां अनशन मत करिए लेकिन आप नहीं माने. अगर यहां शोर मचाना है तो गांव से निकल जाइए."

इसके बाद गोपाल राय शांत हो गए और अनशन स्थल पर बैठे रहे. बाद में गोपाल राय ने मीडिया से बात करते हुए कहा, "मंच से जनलोकपाल की बात होनी चाहिए थी."

गोपाल राय ने कहा, "हम रालेगण में नहीं रहेंगे लेकिन अन्ना का साथ देते रहेंगे. हमें पूरा भरोसा है कि अन्ना सही समय पर सही निर्णय लेंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार