राज्यसभा में लोकपाल बिल पास, अन्ना प्रसन्न

अन्ना हज़ारे

भारतीय संसद के ऊपरी सदन राज्य सभा ने लोकपाल विधेयक को पारित कर दिया है.

कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी समेत लगभग सभी पार्टियों ने एक सुर में इस बिल का समर्थन किया.

भ्रष्टाचार से निपटने के लिए मज़बूत लोकपाल की ख़ातिर अनशन पर बैठे समाजसेवी अन्ना हज़ारे ने लोकपाल बिल पारित किए जाने पर खुशी जताई है.

राज्यसभा के बाद इस बिल को लोकसभा में लाया जाएगा. लोकसभा लोकपाल बिल को पहले पास कर चुकी है लेकिन अब संशोधन के साथ ये बिल संसद के निचले सदन में रखा जाएगा.

हालांकि जनलोकपाल के शुरुआती आंदोलन से जुड़े रहे आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल इस बिल का विरोध करते हैं.

सबको धन्यवाद

केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री कमलनाथ ने राज्यसभा में बिल पारित होने पर सभी पार्टियों को धन्यवाद दिया.

उन्होंने मंगलवार को 'ऐतिहासिक दिन' बताया जब ये बिल पारित हुआ. उन्होंने लोकसभा में भी इस बिल के एकराय से पारित होने की उम्मीद जताई.

कानून मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा, "हमने आज के दिन कोई ऐसी बात नहीं की कि ये प्रक्रिया पटरी से उतर जाए."

उन्होंने कहा, "सभी पार्टियों ने राजनीति से उठकर इसका समर्थन किया क्योंकि जनता की मांग थी, जनता भ्रष्टाचार से त्रस्त है."

उन्होंने कहा कि लोकपाल और सीबीआई स्वतंत्र होंगे और ये ठोस कानून है.

उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार पारदर्शिता को बढ़ावा देने के लिए हमेशा से कोशिश करती रही है.

हालांकि कई तरह के घोटाले के आरोपों से चलते यूपीए सरकार को आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है.

अन्ना गदगद

Image caption अब ये विधेयक फिर से लोकसभा में जाएगा

राज्यसभा में बिल पारित होने के बाद अन्ना हज़ारे के गांव रालेगण सिद्धि में जश्न का माहौल है.

अन्ना हज़ारे ने कहा कि लोकसभा में बिल पारित होने के बाद वो अपना अनशन खत्म कर देंगे.

लोकपाल बिल को पांच घंटे तक चली बहस के बाद पारित किया गया.

हालांकि जनलोकपाल के शुरुआती आंदोलन से जुड़े रहे आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल इस बिल का विरोध करते हैं.

उन्होंने कहा कि इससे भ्रष्टाचार पर किसी तरह की लगाम नहीं लगेगी.

लेकिन अन्ना हजारे ने कहा, "आज चालीस साल के बाद राज्यसभा में ऐतिहासिक कदम उठाया गया है. कल लोकसभा में ऐसा किया जाएगा. इसके लिए सभी पार्टियों को बधाई."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार