'बेमिसाल देशभक्त' जयललिता की नज़र दिल्ली पर

जयललिता, नरेंद्र मोदी, सुषमा स्वराज

तमिलनाडु में सत्ता पर क़ाबिज़ अन्नाद्रमुक पार्टी ने गुरुवार को कहा कि पार्टी प्रमुख और राज्य की मुख्यमंत्री जयललिता भारत की प्रधानमंत्री बनने के 'क़ाबिल' हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़, अन्नाद्रमुक ने ये भी दावा किया कि पार्टी अगले लोकसभा चुनावों में तमिलनाडु और पुदुचेरी की सभी 40 लोकसभा सीटें जीतकर जयललिता के लिए दिल्ली का मार्ग प्रशस्त करेगी.

चेन्नई में गुरुवार को पार्टी कार्यकारिणी की बैठक में 16 प्रस्ताव पारित करते हुए जयललिता को 'बहुआयामी व्यक्तित्व वाला दक्ष नेता' बताया गया है.

अन्नाद्रमुक कार्यकारिणी की ये बैठक ऐसे समय हुई है जब पार्टी में जयललिता को प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषित करने के स्वर मुखर होते जा रहे थे.

'बेमिसाल देशभक्त'

कार्यकारिणी की बैठक में तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता की जमकर सराहना की गई.

जयललिता को 'बेमिसाल देशभक्त' बताते हुए उनकी प्रशासनिक दक्षता का गुणगान किया गया और कहा गया कि वे एक ऐसी नेता हैं जिन्होंने सभी धर्मों और भाषाओं को बराबर सम्मान दिया.

पार्टी का कहना है, ''वे भारत को एक महाशक्ति बनाने के योग्य हैं.''

अन्नाद्रमुक का ये भी कहना है कि पार्टी अगले लोकसभा चुनावों में अपने प्रभावक्षेत्र में आने वाली सभी 40 सीटों पर विजय परचम लहराएगी.

तमिलनाडु में लोकसभा की 39 सीटें हैं. पड़ोसी पुदुचेरी से लोकसभा के लिए एक सदस्य चुना जाता है. इस तरह पार्टी कुल 40 सीटों पर जीत का दावा कर रही है.

देश में लोकसभा के चुनाव मई में होना निर्धारित है जहां कांग्रेस लगातार तीसरी बार केंद्रीय सत्ता में आने की कोशिश करेगी जिसे भारतीय जनता पार्टी की ओर से नरेंद्र मोदी की चुनौती का सामना करना पड़ रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार