मुसलमान की सोच

पिछले हफ़्ते आपने बीबीसी संवाददाता इक़बाल अहमद की विशेष श्रृंखला सुनी जिसमें उन्होंने ये जानने की कोशिश की थी कि अगले साल होने वाले आम चुनाव में मुसलमान किस दिशा में सोच रहा है.

अपनी विशेष पेशकश में इक़बाल अहमद ने समाज के कई वर्गों से बात की थी और उन्होंने मुसलमानों की आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक दिक्क़तों का ज़िक्र किया था.

उन्होंने कई सवालों पर बात की, जैसे कि क्या मुसलमानों की अपनी पार्टी होनी चाहिए, गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर मुसलमानों की क्या सोच है और आने वाली सरकार के समक्ष मुसलमानों की परेशानियों को लेकर क्या चुनौतियाँ होंगी.

शनिवार 21 दिसंबर पर बीबीसी हिंदी के कार्यक्रम इंडिया बोल में हम आपसे जानना चाहते हैं कि आप इस विषय पर क्या सोचते हैं.

अगर आप कार्यक्रम में सीधे शामिल होना चाहें, तो मुफ्त फोन करें 1800 11 7000 या 1800 102 7001 पर.

अगर आप चाहते हैं कि बीबीसी आपसे सीधे संपर्क करे, तो अपना नंबर फ़ोन ईमले करें bbchindi.indiabol@gmail.com पर.