दिल्ली में 'आप' की सरकार पर फ़ैसला सोमवार को

अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि सोमवार सुबह वह इस बात की घोषणा कर देंगे कि उनकी पार्टी दिल्ली में सरकार बनाएगी या नहीं.

नई दिल्ली के मंदिर मार्ग स्थित आम आदमी पार्टी की रैली में उन्होंने यह बात कही.

कांग्रेस की ओर से आम आदमी पार्टी को बिना शर्त समर्थन संबंधी राज्यपाल को लिखे पत्र के बाद 'आप' सरकार बनाने को लेकर दिल्ली के 272 वार्डों में जनमत संग्रह कर रही है.

शनिवार को सौ से ज्यादा ऐसी जनसभाएं दिल्ली में हुईं, जबकि रविवार को भी दिल्ली में बाकी जगह सभाएं जारी हैं. 'आप' जनसभाओं के अलावा इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों जैसे मोबाइल पर एसएमएस और वेबसाइट के ज़रिए भी लोगों का रुझान ले रही है. पूरी दिल्ली में जनमत संग्रह के लिए पर्चे भी बाँटे जा रहे हैं.

मंदिर मार्ग पर रैली में अरविंद केजरीवाल ने कहा, "भाजपा और कांग्रेस वालों ने राजनीति शब्द को बर्बाद कर दिया है. बीजेपी और कांग्रेस वाले राजनीति नहीं कर रहे बल्कि दलाली कर रहे हैं."

Image caption लोगों से राय लेने के बाद अरविंद केजरीवाल के चेहरे पर मुस्कुराहट देखी गई.

उन्होंने कहा, "हम कांग्रेस और भाजपा के भ्रष्ट नेताओं को जेल भेजेंगे."

आत्मविश्वास से भरे

शनिवार सुबह रैली में अरविंद केजरीवाल आत्मविश्वास से भरे थे. लोगों से हाथ उठाकर सरकार बनाने या न बनाने की राय लेने के बाद अरविंद केजरीवाल के चेहरे पर मुस्कराहट देखी गई.

'आप' के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया, कुमार विश्वास और पार्टी के अन्य विधायक मंगोलपुरी, ग्रेटर कैलाश, तिलक नगर और अन्य जगहों पर जनसभाएं कर रहे हैं.

जनसभाओं से मिले रुझानों की विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए इनकी वीडियोग्राफ़ी भी कराई जा रही है.

'समर्थन हमेशा के लिए नहीं'

'आप' के सोशल मीडिया अभियान के प्रभारी और नेता दिलीप पांडेय ने कहा, "एसएमएस, आईवीआरएस और ईमेल के ज़रिए हमें सात लाख से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिली हैं...हम और प्रतिक्रियाएं मिलने की उम्मीद कर रहे हैं."

उधर कांग्रेस की नेता किरण वालिया ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा, "बिना शर्त समर्थन हमेशा के लिए नहीं है. अगर वह ढंग से प्रदर्शन नहीं करते, तो इस पर पुनर्विचार किया जा सकता है."

वहीं दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष विजय गोयल ने कहा, "दिल्ली में सरकार बनाने को लिए 'आप' पार्टी सभी तरह की युक्तियाँ अपना रही है."

उन्होंने 'आप' पर कांग्रेस के साथ एक गुप्त समझौता करने का भी आरोप लगाया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार