पांडिचेरीः 'अपहरण और गैंग रेप' केस में 13 गिरफ़्तार

बलात्कार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करते लोग

दक्षिण भारत के राज्य पांडिचेरी में क्रिसमस की शाम एक 20 वर्षीय युवती के साथ कथित रूप से बलात्कार की घटना के सिलसिले में पुलिस ने 13 व्यक्तियों को गिरफ़्तार किया है.

पुलिस का कहना है कि अब भी एक संदिग्ध की गिरफ़्तारी बाकी है.

गिरफ़्तार किए गए लोगों में पीड़िता की दोस्त का बॉयफ्रेंड भी शामिल है. युवती के साथ कथित तौर पर दो गिरोह के लोगों ने क्रिसमस की शाम पांडिचेरी में बलात्कार किया था.

पीड़िता और उसके दोस्तों की शिकायत पर ढंग से कार्रवाई न करने के कारण पुलिस निरीक्षक और एक सिपाही को निलंबित कर दिया गया था.

गिरफ़्तारी

करियाकाल की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मोनिका भारद्वाज ने बीबीसी हिंदी रेडियो से बातचीत में कहा, "हमने रेप पीड़िता की दोस्त के बॉयफ्रेंड को गिरफ़्तार कर लिया है. उसने पीड़िता के साथ बलात्कार की पहली घटना के बाद पुलिस को शीघ्रता के साथ सूचित नहीं किया था. हमें शक है कि वह भी अपराध को बढ़ावा दे रहा था या घटना की साजिश रचने में शामिल था."

उन्होंने बताया कि वह और अन्य अभियुक्त इसी इलाक़े के रहने वाले हैं. चेन्नई की रहने वाली यह युवती पांडिचेरी में अपनी दोस्त के बॉयफ्रेंड से मिलने थिरुनल्लार आई थी.

अब तक इस मामले में गिरफ़्तार 13 लोगों में से सात यौन उत्पीड़न के अभियुक्त हैं. एक व्यक्ति अब भी फरार है.

इन 13 लोगों में से एक को पहले भी बलात्कार के एक मामले में सज़ा सुनाई जा चुकी है. उसको 1994 में तीन साल की सज़ा सुनाई गई थी लेकिन उच्च अदालत के फ़ैसले के बाद उसको 18 महीने बाद रिहा कर दिया गया था.

क्रिसमस की शाम युवती का कथित तौर पर एक गिरोह ने अपहरण कर लिया था. उस गिरोह के एक सदस्य ने युवती के साथ बलात्कार किया.

इसके बाद दूसरे गिरोह के सदस्यों ने उसका अपहरण कर कथित रूप से उसके साथ पांडिचेरी में सामूहिक बलात्कार किया था.

पुलिस के मुताबिक़ इस मामले का पता तब चला जब बलात्कार के बाद झगड़ा हो गया और किसी ने पुलिस को फ़ोन किया. पीड़िता उस एकांत जगह से अपने दोस्तों को फ़ोन करने में कामयाब हो गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार