साल 2013 का दलित और आदिवासी हिंदी साहित्य

  • 5 जनवरी 2014
हिन्दी दलित और आदिवासी साहित्य, पुस्तक

दलित-आदिवासी साहित्य की पुस्तकों की यह सूची अपने आप हिंदी में दलित-आदिवासी साहित्य की स्थिति बयाँ करेगी. इनमें से शायद ही किसी किताब का ज़िक्र इससे पहले आई किसी सूची में हुआ है.

साल 2013 में हिंदी में प्रकाशित उल्लेखनीय किताबों की पांचवी किस्त में दलित और आदिवासी साहित्य की उल्लेखनीय पुस्तकें.

मोहनदास नैमिशराय

Image copyright Mohandas Namishray.Facebook
Image caption मोहनदास नैमिशराय, वरिष्ठ दलित लेखक, महानायक अंबेडकर पुस्तक हाल में प्रकाशित. वीरांगना झलकारी बाई (उपन्यास) काफी चर्चित. विभिन्न विषयों पर कई पुस्तकें प्रकाशित.

दक्षिण भारत, पंजाब और महाराष्ट्र में कई महत्वपूर्ण रचनाएं दलित साहित्य में आई हैं. यह सूची केवल उत्तर भारत की उल्लेखनीय रचनाओं की है.

  • पथेरा (कहानी संग्रह), किशन पाल परख, श्री नटराज प्रकाशन, दिल्ली
  • हमलावर (उपन्यास), विपिन बिहारी, नटराज प्रकाशन
  • एकलव्य (खंड काव्य), परमानंद राम, संस्कृति प्रकाशन, बिहार
  • कोलार जल रहा है(काव्य संग्रह), शीलबोधी, चंद्रिका प्रसाद जिज्ञासु प्रकाशन मंच
  • खसम खुशी क्यों होय?(आलोचना), डॉ धर्मवीर, वाणी प्रकाशन
  • समांतर दृष्टि की राह (आलोचना), डॉ रवींद्र कुमार पाठक, यश प्रकाशन, दिल्ली
  • मेघवाल समाज का गौरवशाली इतिहास, डॉ. एमएल परमार, बुद्धम पब्लिशर्स
  • उत्तर सदी के हिन्दी कथा साहित्य में दलित विमर्श, श्यौराज सिंह बेचैन, अनामिका प्रकाशन
  • दलित साहित्य का समाज शास्त्र, डॉ दिनेश और विजय, श्री नटराज प्रकाशन

रमणिका गुप्ता

Image copyright Ramnika Gupta
Image caption रमणिका गुप्ता, सीता-मौसी(उपन्यास), बहू जुठाई (कहानी संग्रह), भीड़ सतर में चलने लगी है, भला मैं कैसे मरती, आदमी से आदमी तक, विज्ञापन बनते कवि (कविता संग्रह) सहित कई पुस्तकें प्रकाशित.
  • नन्हें सपनों का सुख, कविता संग्रह, सरिता बड़ाइक, रमणिका फाउंडेशन, नई दिल्ली

सरिता झारखंड की चिक बड़ाइक जनजाति की हैं. उनकी कविताएँ बहुत अच्छी हैं.

  • आदिवासी दुनिया, आलेख, हरिराम मीणा, नेशनल बुक ट्रस्ट, नई दिल्ली

इस किताब में आदिवासियों की भाषा, इतिहास और मिथकों इत्यादि पर लिखा है. उन्होंने सभी आदिवासी जातियों की गोत्र समेत सूची भी दी है.

  • आदिवासी साहित्य विमर्श, आलेख, गंगा सहाय मीणा, अनामिका पब्लिशर्स एंड डिस्ट्रीब्यूटर्स, दिल्ली

यह संपादित पुस्तक है और उल्लेखनीय है.

  • आदिवासी लेखन एक उभरती चेतना, आलेख, रमणिका गुप्ता, सामयिक प्रकाशन

इस किताब में पूर्वोत्तर और पूरे आदिवासी साहित्य की विवेचना की गई है. इसमें उनकी रचनाओं का प्रयोग किया गया है. इसमें लगभग बीस भाषाओं का अनुवाद आपको मिलेगा जिसकी आलोचना की गई है.

  • आदिवासी कहानियाँ, कहानी संग्रह, केदारनाथ मीणा, अलक प्रकाशन, जयपुर
  • भंवर, उपन्यास, कैलाश चंद चौहान, सामयिक प्रकाशन, नई दिल्ली
  • मेले में लड़की, कहानी संग्रह, पूनम तूषामड़, सामयिक प्रकाशन
  • महानायक बाबा साहब डॉ. अंबेडकर, उपन्यास, मोहनदास नैमिशराय, धनज्योति चेरिटेबेल ट्रस्ट

महान नायक बाबा साहब अंबेडकर एक बहुत बड़ी कृति है. यह हिन्दी में बाबा साहब पर लिखा गया पहला उपन्यास है.

  • छतरी, कहानी संग्रह, ओमप्रकाश वाल्मीकि, ज्ञानपीठ प्रकाशन

मृत्यु से पहले उन्होंने यह किताब ख़त्म की थी. यह एक महत्वपूर्ण किताब है.

श्यौराज सिंह बेचैन

Image copyright Sheoraj Singh Bechain.Facebook
Image caption श्यौराज सिंह बेचैन, क्रौंच हूँ मैं, नई फसल (काव्य संग्रह), 'मेरा बचपन मेरे कंधों पर' (आत्मकथा) काफी चर्चित.
  • खसम खुशी क्यों होय?, डॉ धर्मवीर, वाणी प्रकाशन

पुरुषोत्तम अग्रवाल ने कबीर पर जो पुस्तक लिखी थी उसमें कुछ किंवदंतियाँ, कुछ ऐसी चीजें जो तार्किक नहीं थीं, उनका जवाब डॉ धर्मवीर ने दिया है.

  • छतरी, ओमप्रकाश वाल्मीकि, भारतीय ज्ञानपीठ प्रकाशन

इस संग्रह में उनकी कई नई कहानियाँ हैं.

  • दलित शिखरों का साक्षात्कार, यशवंत वीरोदय, साहित्य संस्थान

इस किताब में देश के चुनिंदा दलित लेखकों से उनकी रचनात्मकता, सामाजिक सरोकारों और दृष्टिकोण के बारे में बात की गई है. इसमें कोई भी बड़ा दलित लेखक-लेखिका छूटा नहीं है. इसलिए इस किताब का महत्व बहुत बढ़ जाता है.

  • दलित बचपन- वेदना का विस्फोट, नितिन गायकवाड़, स्वराज प्रकाशन

इस पुस्तक में आत्मकथाओं पर सभी दलित और ग़ैर-दलित समीक्षकों, आलोचकों और संपादकों की समीक्षाओं को संपादित किया गया है. दलित बचपन पर यह किताब एक मुकम्मल दृष्टि तैयार करती है.

  • दलित साहित्य की विकास यात्रा, डॉ राम चंद्र, साहित्य संस्थान

यह ओमप्रकाश वाल्मीकि के साक्षात्कारों का संकलन है. वाल्मीकि के महत्वपूर्ण साक्षात्कार एक जगह संकलित नहीं थे इस दृष्टि से यह एक महत्वपूर्ण किताब है.

  • खरोंच (कहानी संग्रह), जयप्रकाश कर्दम, स्वराज प्रकाशन

इस संग्रह में कर्दम जी की महत्वपूर्ण कहानियाँ हैं. यह एक उल्लेखनीय संग्रह है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट् विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार