आम आदमी पार्टी का मुफ़्त सदस्यता अभियान

सदस्यता अभियान

आम आदमी पार्टी ने अपनी सदस्यता बढ़ाने के लिए मुफ़्त सदस्यता अभियान की घोषणा की है.

भारत का कोई भी नागरिक दस जनवरी से 26 जनवरी तक बिना दस रुपए सदस्यता शुल्क चुकाए आम आदमी पार्टी की सदस्यता ले सकता है.

पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस वार्ता में पत्रकारों को इस अभियान की जानकारी देते हुए कहा कि पार्टी का उद्देश्य एक करोड़ कार्यकर्ता जोड़ना है.

पार्टी ने नए सदस्य जोड़ने के इस अभियान को नाम दिया है, "मैं भी आम आदमी" अभियान.

टार्गेट एक करोड़

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 26 जनवरी तक एक करोड़ सदस्य जोड़ने का उद्देश्य है. उसके बाद भी निशुल्क सदस्यता अभियान जारी रहेगा.

केजरीवाल ने बताया कि देश का कोई भी नागरिक उनकी पार्टी का सदस्य बन सकता है.

सदस्यों की जाँच पड़ताल के सवाल पर केजरीवाल ने कहा, "अगर किसी व्यक्ति को हमारी पार्टी में कोई पद दिया जाएगा या कहीं से उम्मीदवार बनाया जाएगा तब उसकी जाँच पड़ताल की जाएगी. सदस्य कोई भी नागरिक बन सकता है."

अब तक करीब तीन लाख लोग ऑनलाइन माध्यम से पार्टी के सदस्य बने हैं.

नए सदस्यों को पद और ज़िम्मेदारी देने के सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि नई पार्टी है, पदों के लिए भी बहुत से लोगों की ज़रूरत है इसलिए पूरी जाँच पड़ताल करके अच्छे लोगों को ज़िम्मेदारी भी दी जाएगी.

नहीं चाहिए सुरक्षा

Image caption केजरीवाल ने एक बार फिर दोहराया है कि उन्हें सुरक्षा नहीं चाहिए.

सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर और पत्रकार आशुतोष गुप्ता के पार्टी के साथ जुड़ने के सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि आशुतोष एक दो दिन में पार्टी के साथ जुड़ जाएंगे जबकि मेधा पाटकर से योगेंद्र यादव ने पार्टी के साथ जुड़ने का आग्रह किया है. मेधा पाटकर जल्द ही इस बारे में फ़ैसला ले लेंगी.

दिल्ली पुलिस द्वारा किसी उद्योगपति की कार को ओवरटेक करने के आरोप में चालान करने के सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि यह ग़लत है. ऐसा नहीं होना चाहिए.

जबकि अपनी सुरक्षा के सवाल पर केजरीवाल ने एक बार फिर दोहराया कि उन्हें कोई ख़तरा नहीं है. केजरीवाल ने कहा, "मैं कई बार कह चुका हूँ मुझे सुरक्षा नहीं चाहिए."

उत्तर प्रदेश सरकार ने अरविंद केजरीवाल को जेड श्रेणी की सुरक्षा देने का फ़ैसला लिया है.

दिमाग़ में दीवारें

भारतीय जनता पार्टी के नेताओं द्वारा गाँधी टोपी पहनकर राजघाट पर विरोध प्रदर्शन करने के सवाल को टालते हुए केजरीवाल ने कहा कि सभी को गाँधी टोपी पहननी चाहिए.

दिल्ली सचिवालय के बाहर सड़क पर बैठकर जनता की समस्याएं सुनने के सवाल पर केजरीवाल ने कहा, "जनता के दिमाग़ में बहुत बड़ी-बड़ी दीवारें हैं. बड़ा बंगला, बड़ा दफ़्तर, बड़ी गाड़ी, लाल बत्ती आदि. बड़े सचिवालय में अंदर घुसते हुए भी आम आदमी को डर लगता है. जब सामने आकर बैठ जाते हैं तो जनता के साथ एक रिश्ता क़ायम होता है. यह सारी कवायद जनता से रिश्ता क़ायम करने के लिए की जा रही है."

(बीबीसी हिन्दी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार