आखिरकार ट्विटर पर बोल ही उठे लालू

  • 16 जनवरी 2014
Image copyright twitter

आमतौर पर कंप्यूटर और इंटरनेट जैसी नई तकनीकी से खास तरह की दूरी रखने वाले राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव अब एक नए अंदाज में सामने आए हैं.

सोशल मीडिया के महत्व को स्वीकार करते हुए लालू ने माना है कि जीवन में बदलाव ज़रूरी है और इसी क्रम में वो ट्विटर पर आ गए हैं.

उन्होंने अपने पहले ट्वीट में लिखा है, " केवल परिवर्तन ही शाश्वत है. बदलाव के साथ हम बदलते हैं... आखिरकार ट्विटर पर. जुड़े रहिए."

इसके तुरंत बाद अपने दूसरे ट्वीट में लालू प्रसाद ने लिखा, "आइए साझा लक्ष्य के साथ एक बेहतर भविष्य के लिए मिलकर काम करें." ये दोनों ट्वीट 14 जनवरी को किए गए.

लालू का अंदाज़

Image copyright AFP

लालू अपने गवईं लहजे के लिए खासतौर से जाने जाते हैं, लेकिन ट्विटर पर उनके सभी पोस्ट अंग्रेजी में हैं और उनकी शैली में गंभीरता है.

जाहिर तौर पर लालू प्रसाद के प्रसंशक उन्हें ट्विटर पर भी उन्हें उनके चिर परिचित अंदाज में ही देखना चाहेंगे.

जैसे लालू अपने रेल बजट के दौरान सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों की बदहाल के कारणों को कुछ इस अंदाज में बयां करते हैं- अगर दुधारू गाय को दुहां नहीं जाएगा, तो वो बीमार हो जाएगी. या वो बिहार की सड़कों की दशा सुधारने का वादा करते हुए सड़कों की तुलना अभिनेत्री हेमा मालिनी के गालों से कर देते हैं. लालू की अभिव्यक्ति के अंदाज में इतना भोलापन रहता है कि कोई उनकी बात का बुरा नहीं मानता.

संघर्ष की क्षमता

Image copyright AFP

संघर्ष करने की अपनी क्षमता का उल्लेख करते हुए उन्होंने गुरुवार को ट्विट किया, "जब लोग देखते हैं कि मैं मुश्किल हालात से उबरने के लिए किस तरह काम करता हूं, तो इससे उन्हें उनके जीवन में उम्मीद मिलती है. भगवान सभी को सुखी रखे."

इससे पहले भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी सोशल मीडिया का सफल उपयोग कर चुके हैं. वो भारत के ऐसे राजनेता हैं जिन्हें सोशल मीडिया पर सबसे अधिक फॉलो किया जाता है.

कांग्रेस के शशि थरूर, दिग्विजय सिंह के अलावा भाजपा के लाल कृष्ण आडवाणी, सुषमा स्वराज और अरुण जेटली ट्विटर पर काफी सक्रिय रहते हैं.

हालांकि बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार अभी तक ट्विटर पर नहीं आए हैं.

पिछले दो दिनों में लालू प्रसाद को करीब 3000 फॉलोअर मिल चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार