सोशल मीडिया पर नियंत्रण पर विचारः शिंदे

सुशील कुमार शिंदे, गृहमंत्री, भारत इमेज कॉपीरइट AFP

केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने शनिवार को सोशल मीडिया के दुरुपयोग को रोकने के लिए क़दम उठाने के संकेत दिए.

सुशील शिंदे ने कहा कि सोशल मीडिया से सांप्रदायिक विद्वेष फ़ैलाने की कोशिशें की जा रही हैं. शिंदे ने कहा कि सोशल मीडिया के समाज पर हो रहे दुष्प्रभाव को देखते हुए गृह मंत्रालय इस पर नियंत्रण को लेकर विचार कर रहा है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार उन्होंने यह बात शनिवार को पटना में एक हिन्दी अख़बार के स्थानीय संस्करण के उद्घाटन के अवसर पर कही.

शिंदे ने कहा कि पुरानी उत्तेजक तस्वीरों को सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों पर पोस्ट करके सांप्रदायिक विद्वेष फ़ैलाने की कोशिशें की जा रही हैं.

शिंदे ने कहा, "गृह मंत्रालय में मैं पुरानी उत्तेजक तस्वीरों को फ़ेसबुक के ज़रिए शेयर किए जाते हुए देखता हूँ. इनसे सांप्रदायिक दंगे होते हैं."

सख़्त कार्रवाई

शिंदे ने कहा, "हाल ही में पूर्वोत्तर को लेकर उत्तेजक सामग्री पोस्ट की गई थी जिस पर सख़्त कार्रवाई की गई."

शिंदे ने खोजी पत्रकारिता के नाम पर तथ्य को तोड़ मरोड़कर पेश करने पर भी निशाना साधते हुए कहा कि ईमानदारी से पत्रकारिता करना मीडिया के लिए चुनौती बन गया है.

शिंदे ने कहा, "आज यह सवाल उठाया जाता है कि मीडिया कितना सच बताता है. अख़बारों के लिए पत्रकारिता में ईमानदारी बचाए रखना बड़ी चुनौती बन गया है."

(बीबीसी हिन्दी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार