'आप के वीडियो' पर तीन पुलिसकर्मी निलंबित

दिल्ली पुलिस इमेज कॉपीरइट Dharmendra

दिल्ली के लाल किले के नज़दीक एक आदमी को तीन पुलिस वालों की ओर से पीटे जाने का वीडियो सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस ने तीनों पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया है.

इस वीडियो को आम आदमी पार्टी ने अपने अधिकारिक फ़ेसबुक पेज पर शेयर किया है. इसके बाद पुलिस ने जाँच के आदेश दे दिए हैं और जाँच के नतीजे आने तक वीडियो में नज़र आ रहे पुलिस वालों को निलंबित कर दिया गया है.

शुक्रवार को आम आदमी पार्टी ने अपने पेज पर एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें लाल किले के नज़दीक पुलिस की वर्दी पहने तीन व्यक्ति एक लड़के को बेरहमी से पीट रहे हैं.

इस वीडियो के बारे में दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता राजन भगत ने बीबीसी से कहा, "यह वीडियो हमारे संज्ञान में आया है. जिस इलाक़े का यह वीडियो बताया जा रहा है वहाँ के थानाध्यक्ष को इसकी जाँच करने के लिए कहा गया है. जाँच पूरी होने तक वीडियो में दिख रहे तीन सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है."

इस वीडियो को अब तक 14 हज़ार से अधिक बार शेयर किया जा चुका है और इस पर ढाई हज़ार से अधिक टिप्पणियाँ आई हैं जिनमें से अधिकतर ने दिल्ली ने पुलिस की आलोचना की है.

क़ानूनी सज़ा

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption क़ानून मंत्री सोमनाथ भारती और दिल्ली पुलिस अधिकारियों के बीच नोकझोंक के बाद पुलिस और सरकार आमने सामने हैं.

वीडियो मूलरूप से मध्य प्रदेश के धर्मेंद्र कुमार ने 12 जनवरी को बनाया था जिसे उनके मित्र ने यूट्यूब पर पोस्ट किया गया था.

धर्मेंद्र ने बीबीसी हिंदी सेवा को फ़ोन पर बताया, "मैं लालक़िला घूमने गया था कि मैंने वहाँ देखा कि पुलिस वाले एक लड़के को बुरी तरह पीट रहे हैं. वहाँ से छोटे छोटे बच्चे गुज़र रहे थे. वो बड़े होकर क्या कभी पुलिस पर यक़ीन कर पाएँगे?"

उन्होंने कहा, "मैं पुलिस वालों को रोक नहीं सकता था पर उनका वीडियो उतार कर मैंने अपने ग़ुस्से को नियंत्रण में करने की कोशिश की."

धर्मेंद्र सवाल करते हैं, "अगर देश की राजधानी दिल्ली में एक पर्यटन स्थल पर ऐसा हो रहा है तो बाक़ी इलाक़ों में क्या होता होगा. मैं इसे पुलिस अधिकारियों के संज्ञान में लाना चाहता था. इसलिए इसे अपने कैमरा में रिकॉर्ड कर लिया."

आम आदमी पार्टी ने फ़ेसबुक पर लिखा है, "क्या गृहमंत्री ये सुनिश्चित करेंगे कि वीडियो में दिख रहे पुलिसवालों के ख़िलाफ़ कार्रवाई हो."

पार्टी के मीडिया प्रभारी दीपक बाजपाई ने बीबीसी से कहा कि वीडियो के माध्यम से दिल्ली पुलिस पर निशाना नहीं साधा गया है. हम बस इसे जनता के सामने लाए हैं.

आम आदी पार्टी ने हाल ही में दिल्ली पुलिस पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए गृहमंत्रालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया था. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सड़क पर ही रात गुज़ारी थी.

दिल्ली के क़ानून मंत्री सोमनाथ भारती और दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के बीच कथित तौर पर सेक्स रैकेट और ड्रग्स कारोबार में लिप्त अफ़्रीकी मूल के लोगों पर कार्रवाई को लेकर सार्वजनिक नोकझोंक होने के बाद दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस के बीच तनाव है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार