जो उल्लू बनाता है उसकी इज्जत नहीं करनी: राहुल गांधी

राहुल गांधी, सोनिया गांधी इमेज कॉपीरइट AP

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहलु गांधी ने शनिवार को गुजरात के बारडोली में एक रैली को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी को जम कर आलोचना की. राहुल गांधी ने कहा कि गुजरात में अमीरों की सरकार है.

राहुल ने कहा कि कांग्रेस किसानों, गरीबों और आदिवासियों के लिए काम करती है. उन्होंने कहा, "गुजरात में अमीर लोगों की सरकार है. पांच छह लोग सरकार को चलाते हैं. यहाँ एक व्यक्ति को शक्ति दी जाती है. हम जनता को शक्ति देना चाहते हैं."

पढ़ें- वोटों की सियासत में मूर्तियों का बढ़ता क़द

राहुल ने गुजरात सरकार के सरदार वल्लभभाई पटेल की मूर्ति बनाने की आलोचना की. उन्होंने कहा, "मोदी जी सरदार पटेल की विचारधारा जाने बगैर उनकी मूर्ति बनाना चाहते हैं."

उन्होंने कहा, "सरदार पटेल ने कहा था कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) एक ज़हरीली संस्था है. आरएसएस की विचारधारा ने गांधी जी को मारा"

भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी लंबे समय तक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े रहे हैं.

गुजरात के स्कूल

राहुल ने अपने भाषण में गुजरात में शिक्षा की स्थिति पर सवाल उठाया.

उन्होंने कहा, "शिक्षा की बात होती है, तेरह हज़ार सरकारी स्कूल गुजरात में बंद हुए. बाकी हिन्दुस्तान की शिक्षा की बात होगी, लेकिन यहाँ जो स्कूल बंद हुए हैं उनकी बात नहीं होगी."

राहुल ने दावा किया कि कांग्रेस पार्टी गरीबों, किसानों और आदिवासियों के लिए काम करती है.

पढ़ें- राहुल की अमेठी में कांग्रेसी उधेड़बुन

उन्होंने कहा, "हम जानते हैं कि जब तक गरीब, आदिवासी को शक्ती नहीं देंगे यह देश आगे नहीं जा सकता."

उन्होंने आगे कहा, "यहाँ आम आदमी की सरकार की ज़रूरत है. गरीबों की सरकार की जरूरत है. हम गरीबी को मिटाने की बात करते हैं. ये गरीब को मिटाने की बात करते हैं."

किसने किया विकास

इमेज कॉपीरइट PTI

राहुल ने गुजरात के विकास का श्रेय लेने के लिए भी नरेंद्र मोदी की आलोचना की.

उन्होंने कहा, "अगर यहाँ प्रगति है, विकास है तो गुजरात की जनता के पसीने से प्रगति आई है. ये किसी एक व्यक्ति की मेहनत नहीं है."

भाषण में राहुल ने सूचना का अधिकार, राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना, लोकपाल विधेयक सहित केंद्र सरकार की तमाम योजनाओं की बात जनता को याद दिलाई.

पढ़ें- क्या लोगों को रिझा पाए राहुल गांधी?

अपने भाषण के आखिरी हिस्से में राहुल ने अपरोक्ष रूप से मोदी पर व्यंग्य करते हुए कहा, "पूरा हिन्दुस्तान कोई न कोई काम करता है, कोई चाय बनाता है कोई टैक्सी चलाता है..कोई खेती करता है. हमें चाय वाले की इज्जत करनी है, टैक्सी वाले की इज्जत करनी है, किसान की इज्जत करनी है लेकिन जो उल्लू बनाता है उसकी इज्जत नहीं करनी है."

लोक सभा चुनावों के लिए प्रचार करने गुजरात पहुँचे राहुल ने रैली से पहले बारडोली में पदयात्रा भी की.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार