'भटकल के दोस्त भाजपा में, जल्दी ही दाऊद भी'

  • 29 मार्च 2014
साबिर अली Image copyright PTI

भारतीय जनता पार्टी के नेता मुख़्तार अब्बास नक़वी साबिर अली को पार्टी शामिल किए जाने पर ट्वीट किया है.

उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर कहा, "आतंकवादी भटकल के दोस्त बीजेपी में शामिल हो चुके हैं...जल्द ही दाऊद भी स्वीकार होगा."

नक़वी ने मीडिया से बात करते हुए कहा, "हम पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता हैं. हम कतई नहीं चाहेंगे कि पार्टी जाने-अनजाने किसी संकट में फंसे. अगर कोई ग़लती हुई है तो उसे सही किया जाए. हम आतंकवाद, माओवाद और उससे जुड़े लोगों के ख़िलाफ़ लड़ रहे हैं, इसलिए अगर स्पष्ट रूप से इनसे जुड़े हुए लोग आते हैं तो हमें दिक्कत होगी."

उन्होंने कहा, "पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से इस बारे में हमने कह दिया है."

शुक्रवार को जनता दल यूनाइटेड से निकाले गए नेता साबिर अली भाजपा में शामिल हुए हैं. नकवी का ये ट्वीट इसके बाद ही आया है.

नकवी के ट्वीट को करीब 1400 बार रीट्वीट किया जा चुका है.

सुनिएः मैं कोई बंधुआ मज़दूर तो हूं नहीं: साबिर अली

साबिर अली जद-यू से राज्यसभा सांसद हैं. उन्हें कथित तौर पर भाजपा के प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी की तारीफ़ करने के कारण सोमवार को पार्टी से निकाल दिया गया था.

Image copyright AP
Image caption लालकृष्ण आडवाणी के लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर पार्टी में मतभेद की ख़बरें मीडिया में आई थीं.

उनसे पहले राष्ट्रीय जनता दल नेता रामकृपाल यादव, इंडियन जस्टिस पार्टी नेता उदित राज भाजपा में शामिल हो चुके हैं.

वहीं सतपाल महाराज और जगदंबिका पाल जैसे नेता भी कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं.

भाजपा की मुश्किल

भाजपा के कुछ बड़े नेताओं की नाराज़गी चुनाव से पहले सामने आई है.

जसवंत सिंह ने राजस्थान की बाड़मेर सीट से टिकट न मिलने पर निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में पर्चा भर दिया है. उन्होंने पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह पर उन्हें धोखा देने का भी आरोप लगाया था.

वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी के लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर भी भाजपा में तकरार की स्थिति बन गई थी. पार्टी ने आडवाणी को गुजरात के गाँधीनगर लोकसभा सीट से टिकट दिया.

इसी बीच यह ख़बर मीडिया में आई कि पार्टी की मध्य प्रदेश इकाई चाहती है कि आडवाणी भोपाल से चुनाव लड़ना चाहते हैं. हालांकि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करने के बाद आडवाणी ने घोषणा की थी कि वे गांधीनगर से ही आम चुनाव लड़ेंगे.

गुजरात से भाजपा के टिकट पर सात बार सांसद रह चुके हरिन पाठक ने भी पूर्वी अहमदाबाद सीट से अभिनेता परेश रावल को टिकट दिए जाने को लेकर मीडिया में अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की थी. हरिन पाठक मौजूदा समय में इसी सीट से सांसद हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार