रॉबर्ट राजनीतिक कारणों से निशाने पर हैं: प्रियंका गांधी

  • 22 अप्रैल 2014
प्रियंका गांधी इमेज कॉपीरइट AFP

लंबे समय बाद अपनी ख़ामोशी तोड़ते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका गांधी ने कहा है कि उनके पति रॉबर्ट वाड्रा को राजनीतिक कारणों से निशाना बनाया जा रहा है और विरोधियों का हमला जितना तेज़ होगा उनका इरादा उतना ही मजबूत होगा.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ प्रियंका गांधी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी विकास के मुद्दों से लोगों का ध्यान हटाने के लिए वाड्रा पर हमले कर रही है ताकि 'निरर्थक बातों' को तूल दिया जा सके.

उन्होंने कहा, "जब आप टेलीविजन देखते हैं, आप क्या देखते हैं? कठोर शब्दों में मेरे परिवार का उपहास उड़ाया जाता है. मेरे पति के बारे में बहुत सी बातें कही जाती हैं. इससे मुझे तकलीफ़ होती है."

प्रियंका ने कहा, "मुझे इसलिए तकलीफ़ नहीं होती कि कोई मेरे परिवार का उपहास उड़ा रहा है या सच्ची बात नहीं बताई जा रही है या मुझे अपने बच्चों को बताना पड़ता है कि सच्चाई की जीत होगी. मुझे चुनावों के दौरान इस तरह की राजनीति से तकलीफ़ होती है."

प्रियंका की पीड़ा

रायबरेली में मंगलवार को उन्होंने लोगों से कहा, "मुझे पीड़ा होती है कि यह चुनाव विकास के मुद्दों, लोगों की ज़रूरतों, युवाओं के रोज़गार पर होना चाहिए, लेकिन आप लोगों को निर्रथक बातों की तरफ़ मोड़ा जा रहा है."

इमेज कॉपीरइट Getty

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, "मेरे परिवार को निशाना बनाया जाता रहा है. उन्होंने राजनीतिक हमले के लिए मेरे पति को निशाना बनाया. ऐसा पिछले दो सालों से हो रहा है और इससे मुझे बहुत पीड़ा होती है."

उन्होंने भूतपूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को याद करते हुए कहा कि उन्होंने अपनी दादी से सीखा है कि किसी के लिए सच्चाई ही एक मात्र कवच होता है और अंततः उसी की जीत होती है.

गौरतलब है कि भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने कुरुक्षेत्र और गाज़ियाबाद रैलियों में वाड्रा पर निशाना साधा था.

मोदी ने बाद में गुड़गांव में एक रैली में कहा था, "शहजादा, से लोग जानना चाहते हैं आपके घर में क्या चल रहा है. लोग जानना चाहते हैं कि बाज़ीगर कौन है, जिसने तीन महीने में 50 करोड़ रुपए अर्जित किए हैं.''

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार