वोटिंग ख़त्म, लेकिन हिंसा में छह की मौत

मतदान इमेज कॉपीरइट Getty

गुरुवार को लोकसभा के छठे दौर का मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न हो गया. हालांकि वोटिंग ज़्यादा जगहों पर शांतिपूर्ण रही लेकिन झारखंड में मतदान कर्मियों को लेकर वापस आ रही एक बस को बारूदी सुरंग लगाकर उड़ा दिया गया है जिसमें पांच लोगों की मौत हो गई है.

झारखंड के पुलिस महानिदेश राजीव कुमार ने बताया कि ये हमला दुमका के शिकारपाड़ा में हुआ. उनका कहना था कि मरने वालों की तादाद में बढ़ोतरी हो सकती है क्योंकि कुछ लोग घायल भी हुए हैं.

लेकिन राजीव कुमार घायलों की संख्या के बारे में नहीं बता पाए.

पुलिस के मुताबिक़ ये एक माओवादी हमला है.

स्थानीय पत्रकार नीरज सिन्हा का कहना है कि ये जगह राजधानी रांची से 450 किलोमीटर दूर है. उनका कहना था कि अभी ये साफ नहीं है कि बस में कितने लोग सवार थे.

नीरज सिन्हा ने बताया कि बस में सुरक्षाकर्मी और मतदान के कामों में लगे सरकारी कर्मचारी भी मौजूद थे.

उनका कहना था कि ये सभी लोग मतदान के बाद इवीएम लेकर दुमका लौट रहे थे.

कश्मीर के अनंतनाग लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले शोपियां में एक मतदान केंद्र से लौटती हुई सीआरपीएफ की वैन पर घात लगाकर अज्ञात हमलावरों ने फायरिंग की, जिसमें एक मतदान अधिकारी की मृत्यु हो गई.

हमले में पांच सुरक्षाकर्मी भी घायल हो गए हैं. हमलावर फायरिंग के बाद फरार हो गए. अभी तक किसी समूह ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

असम के कोकराझार इलाके में एक मतदान केंद्र पर कब्ज़े को रोकने की कोशिश करते हुए एक सुरक्षाकर्मी के मारे जाने की ख़बर है.

नामांकन

गुरुवार को एक तरफ़ छठे चरण का मतदान हो रहा था तो दूसरी तरफ़ भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी अपना नामांकन भरने वाराणसी पहुंचे.

नामांकन से पहले उन्होंने भारी संख्या में समर्थकों के साथ रोड शो किया.

झलकियाँ छठे चरण के मतदान की

मतदान

इमेज कॉपीरइट PTI

निर्वाचन आयोग ने एक प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि छिटपुट हिंसा की घटनाओं के अलावा आम तौर पर छठे चरण का चुनाव शांतिपूर्ण रहा और 2009 के मुकाबले मतदान के प्रतिशत में वृद्धि दर्ज की गई.

आयोग के अनुसार, माओवादियों के चुनाव बहिष्कार के बावजूद हिंसाग्रस्त इलाकों में रिकॉर्ड मतदान हुआ. झारखंड में 63.4 प्रतिशत, बिहार की सात सीटों पर 60 प्रतिशत और छत्तीसगढ़ में 62.5 प्रतिशत मतदान हुआ.

जम्मू-कश्मीर की छह सीटों में से एक पर, अनंतनाग में 28 प्रतिशत मतदान हुआ. यहां से 12 उम्मीदवार मैदान में थे.

सबसे ज़्यादा मतदान का प्रतिशत पश्चिम बंगाल में रहा जहां छह सीटों पर 82 प्रतिशत मतदान हुआ. चुनाव आयोग के मुताबिक 1999 में यहां 84 प्रतिशत मतदान हुआ था.

इसी तरह उत्तर प्रदेश में 59 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. यहां कुछ इलाकों में मतदान में बाधा पहुंचाने की शिकायतें आई हैं.

मुंबई महानगर में 53 प्रतिशत वोट पड़े. जबकि 2009 में 41 प्रतिशत मतदान हुआ था. महाराष्ट्र की कुल 19 सीटों पर 55.33 प्रतिशत मतदान हुआ.

राजस्थान की पांच सीटों पर 59.2 प्रतिशत मतदान हुआ, जबकि मध्यप्रदेश की 10 सीटों पर 64.04 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया.

केंद्र प्रशासित क्षेत्र पुडुचेरी में 82 प्रतिशत मतदान हुआ.

दक्षिण भारत में तमिलनाडु में 73 प्रतिशत मतदान दर्ज हुआ. छठे चरण में तमिलनाडु की सभी 39 सीटों पर एक साथ चुनाव हुआ है. यहां कांग्रेस और डीएमके इस बार अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार