मोदी का बयान ग़ैर-ज़िम्मेदाराना और शर्मनाक: पाकिस्तान

  • 30 अप्रैल 2014
पाकिस्तान के गृहमंत्री चौधरी निसार अली ख़ान Image copyright AP

पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री चौधरी निसार अली ख़ान ने मंगलवार को दावा किया कि नरेंद्र मोदी अगर भारत के प्रधानमंत्री बने तो इससे क्षेत्र में शांति के लिए ख़तरा पैदा जाएगा.

नरेंद्र मोदी के पिछले हफ़्ते एक बयान में कहा था कि वो अगर सत्ता में आए तो दाऊद इब्राहिम को पाकिस्तान से भारत वापस लाएंगे.

समाचार एजेंसी एपीपी के मुताबिक़, चौधरी निसार अली ख़ान ने मोदी के इस बयान को 'ग़ैर-ज़िम्मेदाराना और शर्मनाक' बताया है.

चौधरी निसार अली ख़ान का कहना है, ''मोदी को पहले तय करना चाहिए कि दाऊद आख़िर कहां रहते हैं और उसके बाद उन्हें पाकिस्तान पर हमला करने का सपना देखना चाहिए.''

'मोदी ने सबक नहीं सीखा'

चौधरी निसार अली ख़ान ने गुजरात दंगों की ओर इशारा करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री रहते हुए गुजरात में अपनी 'शर्मनाक' हरक़तों से सबक शायद नहीं सीखा है.

उन्होंने कहा कि क्षेत्र में शांति के लिए प्रयासों को पाकिस्तान की कमज़ोरी के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए.

Image copyright PTI

उन्होंने कहा कि भाजपा, भारत का एक प्रमुख राजनीतिक दल है और एक संभावित प्रधानमंत्री की ओर से इस तरह का बयान, उकसाने वाला है और भर्त्सना करने योग्य है क्योंकि इसमें अपनी आख़िरी हद पार करते हुए पाकिस्तान के प्रति दुश्मनी का रवैया दिखाया गया है.

चौधरी निसार अली ख़ान कहा कि मोदी अगर भारत के प्रधानमंत्री बने तो क्षेत्र में अस्थिरता का ख़तरा पैदा हो जाएगा.

उन्होंने ये भी कहा कि जो लोग ये समझते हैं कि दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान में छिपे हैं और उसकी धरती पर किसी तरह की मुहिम छेड़ने की सोचते हैं तो उन्हें ये जान लेना चाहिए कि पाकिस्तान कमज़ोर मुल्क नहीं है और इस तरह की धमकियों से नहीं डरता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार