उज्जैनः पटाखा फ़ैक्ट्री में धमाका, 15 की मौत

  • 3 मई 2014
पटाखा फ़ेक्ट्री की फ़ाइल तस्वीर Image copyright

उज्जैन की एक पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई है. मरने वालों में 12 महिलाएं और एक बच्चा शामिल हैं. इसके अलावा इस दुर्घटना में पांच लोग घायल भी हुए हैं जिन्हें ज़िला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घायलों में से तीन की हालत गंभीर बनी हुई है.

उज्जैन रेंज के आईजी वी कुमार के अनुसार, "हादसे में अभी तक 15 लोगों के मारे जाने की खबर है. इनमें 12 महिलायें शामिल हैं. "

उन्होंने कहा कि फिलहाल ज़िले के कलेक्टर और एसपी समेत दूसरे पदाधिकारी मौके पर पहुंच चुके हैं और राहत और बचाव का काम जारी है.

उज्जैन ज़िला मुख्यालय से लगभग 60 किलोमीटर दूर बड़नगर तहसील के लुहाना केसूर रोड पर यह पटाखा फैक्ट्री है. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार शनिवार की दोपहर फैक्ट्री में काम चल रहा था, उसी समय उसमें आग लग गई.

जिस वक्त फैक्ट्री में आग लगी, उस समय फैक्ट्री में लगभग दो दर्जन लोग काम कर रहे थे. ज़िले के पुलिस अधीक्षक ने मृतकों की संख्या के बढ़ने से इंकार नहीं किया है.

आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है. हालांकि आरंभिक तौर पर जो जानकारी मिल रही है, उसमें कहा जा रहा है कि काम करने वाले किसी मज़दूर द्वारा बीड़ी पी कर फेंकने के बाद बारुद में आग लग गई, जिसके बाद पटाखों में विस्फोट शुरु हो गया और पूरी फैक्ट्री आग की चपेट में आ गई. रिपोर्टों के मुताबिक मौके पर आग बुझाने की कोई भी सुविधा उपलब्ध नहीं थी.

हालांकि सूचना मिलने के बाद मौके पर दमकल की छह गाड़ियां पहुंची लेकिन आग इतनी भयावह थी कि उस पर पूरी तरह से काबू पाने में दो घंटे से अधिक का समय लग गया.

बड़नगर इलाके में तीन पटाखा फैक्ट्री हैं और इससे पहले भी इस इलाके में पटाखा फैक्ट्री में आग लग चुकी है. जिस फैक्ट्री में आग लगी है, उसका लाइसेंस था या नहीं, इस बारे में ज़िला प्रशासन के अधिकारी जांच कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार