इंडिया बोल, वाराणसी, आम चुनाव
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

क्या सोचता हैं बनारस का युवा?

अपनी ही धुन में मगन बनारस शहर इन दिनों राजनीतिक अखाड़ा नज़र आता है.

यहां आपको कभी बीजेपी तो कभी झाड़ू का निशान लिए आम आदमी पार्टी तो कहीं कांग्रेस की रैलियों का रेला दिखाई दे जाएगा.

बनारस के स्थानीय लोग इसका आनंद भी रहे हैं और यह भी कह रहे हैं कि 12 तारीख़ के बाद देखते हैं कितने लोगों को बनारस याद रह जाएगा.

ऐसे में यहां के युवा इस चुनाव के बारे में क्या सोचते हैं? क्या इस चुनाव से बनारस को कुछ हासिल हो पाएगा. इन्हीं सब विषयों पर कल बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के छात्रों से चर्चा हुई. इस चर्चा का संचालन किया था मोहनलाल शर्मा ने.