किसी भी पार्टी को समर्थन नहीं देंगे: अरविंद केजरीवाल

इमेज कॉपीरइट SANJAY GUPTA
Image caption खुद अरविंद केजरीवाल बनारस में मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं

आम चुनाव के बाद नई सरकार बनाने के लिए आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने किसी भी दल को समर्थन देने की बात से इनकार कर दिया है.

केजरीवाल ने सोमवार को ट्वीट कर ऐसी ख़बरों का खंडन किया. उन्होंने कहा, "हम किसी भी दल को समर्थन नहीं देंगे."

केजरीवाल ने कहा कि चुनाव के एक दिन पहले ऐसी बातें करके जनता को गुमराह करने की साजिश न करें.

इससे पहले आम आदमी पार्टी के नेता गोपाल राय ने कहा था कि उनकी पार्टी भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए तीसरे मोर्चे को समर्थन देने के लिए सोच सकती है.

गोपाल राय ने कहा था कि यदि 16 मई को चुनाव परिणाम आने के बाद तीसरे मोर्चे की सरकार के लिए पहल होती है तो पार्टी उसे मुद्दों पर आधारित समर्थन की पेशकश करने पर विचार कर सकती है.

आप पर सबकी नजरें

केजरीवाल के बेहद करीबी माने जाने वाले गोपाल राय के इस बयान को ख़ारिज करते हुए केजरीवाल ने न सिर्फ ऐसी किसी संभावना से इंकार किया है बल्कि इसे मीडिया की साजिश भी करार दिया है.

आम आदमी पार्टी ने देश भर में 422 लोकसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं. पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल ख़ुद वाराणसी सीट से नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं.

इससे पहले केजरीवाल ने दावा किया था कि उनकी पार्टी कम से कम सौ सीटों पर जीत दर्ज कर रही है.

वहीं गोपाल राय का कहना था कि हम सीटों को लेकर कोई अनुमान नहीं लगा सकते, लेकिन यदि पार्टी का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहता हो, तो भी हम अपने संघर्ष को जारी रखेंगे.

पिछले साल दिल्ली विधान सभा के चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 28 सीटें जीतकर सबको चौंका दिया था.

उसके बाद पार्टी ने कांग्रेस की मदद से दिल्ली में सरकार भी बनाई लेकिन क़रीब डेढ़ महीने बाद ही केजरीवाल सरकार ने इस्तीफ़ा दे दिया था.

(बीबीसी हिन्दी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार