सबसे युवा और सबसे उम्रदराज मंत्री महिलाएँ

स्मृति ईरानी

भारतीय जनता पार्टी के नेता नरेंद्र मोदी की अगुआई में बनी एनडीए सरकार में सबसे कम उम्र और सबसे ज़्यादा उम्र की मंत्री महिलाएँ हैं.

और वो हैं स्मृति ईरानी और नजमा हेपतुल्लाह. स्मृति ईरानी की उम्र 38 साल है, तो हेपतुल्लाह 74 साल की हैं. ये भी बात ग़ौर करने की है कि दोनों राज्यसभा से आती हैं.

स्मृति ईरानी गुजरात और नजमा हेपतुल्लाह मध्य प्रदेश से राज्यसभा सदस्य हैं. स्मृति ईरानी ने अमेठी से राहुल गांधी के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ा था, लेकिन हार गईं थी.

स्मृति और नजमा हेपतुल्लाह दोनों ने मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली है.

भारतीय जनता पार्टी की महिला शाखा की राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुकीं स्मृति ईरानी इस समय पार्टी उपाध्यक्ष हैं.

अन्य महिला मंत्री

इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption नजमा हेपतुल्लाह को कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिला है

टीवी सीरियल क्योंकि सास भी कभी बहू थी से चर्चा में आईं स्मृति ईरानी तेज़ तर्रार नेता मानीं जाती हैं.

वहीं नजमा हेपतुल्लाह लंबे समय तक कांग्रेस से जुड़ी रही हैं, लेकिन बाद में वे भाजपा में शामिल हो गईं. वे राज्यसभा की उपसभापति रह चुकीं हैं.

मोदी मंत्रिमंडल में कुल सात महिलाओं को जगह मिली है, स्मृति ईरानी और नजमा हेपतुल्लाह के अलावा सुषमा स्वराज, उमा भारती, मेनका गांधी, हरसिमरत कौर और निर्मला सीतारमन ने भी मंत्री पद की शपथ ली.

इनमें से छह को कैबिनेट और निर्मला सीतारमन को राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) का दर्जा मिला है.

नजमा हेपतुल्लाह मोदी मंत्रिमंडल का एकमात्र मुस्लिम चेहरा हैं. वे 1986 से 2012 तक पाँच बार राज्यसभा के लिए चुनी गई हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)