अनुच्छेद 370 को ख़त्म कर दिया जाना चाहिए?

इमेज कॉपीरइट AFP

क्या संविधान के अनुच्छेद 370 को ख़त्म कर दिया जाना चाहिए?

जम्मू कश्मीर राज्य को भारतीय संघ से जोड़ने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 पर केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के बयान से एक ज़बरदस्त विवाद खड़ा हो गया है. उन्होंने संकेत दिए थे कि नरेंद्र मोदी सरकार इस व्यवस्था को ख़त्म करने के लिए बहस-मुबाहिसे की शुरुआत कर चुकी है.

लेकिन फिर मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने लगभग ग़ुस्से में भरकर कहा कि अगर ये अनुच्छेद हटाया गया तो जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं रह जाएगा.

कश्मीरी लोग कहते हैं कि पिछले 65 बरसों में केंद्र ने अनुच्छेद 370 को काफ़ी कमज़ोर कर दिया है.

पर केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हमेशा 370 का विरोध करते रहे हैं. तो क्या वाक़ई अनुच्छेद 370 को ख़त्म कर दिया जाना चाहिए?

इस शनिवार यानी 1 जून को शाम 07:30 बजे बीबीसी हिंदी के कार्यक्रम इंडिया बोल में इसी विषय पर बहस होगी.

अपनी राय ज़ाहिर करने और जानकारों से सवाल करने के लिए हमें मुफ़्त फ़ोन कीजिए 1800 11 7000 और 1800 102 7001 पर. हमें आप अपने टेलीफ़ोन नंबर bbchindi.indiabol@gmail.com और हमारे फ़ेसबुक पन्ने के ज़रिए भी भेज सकते हैं.