नरेंद्र मोदी से क्या चाहते हैं अरविंद केजरीवाल?

केजरीवाल इमेज कॉपीरइट SANJAY GUPTA
Image caption आम चुनावों में केजरीवाल की पार्टी चार सौ ज़्यादा सीटों पर लड़ी लेकिन उसके चार ही उम्मीदवार जीते

आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने जहां अपनी पार्टी में नए सिरे से जान फूंकने की बात कही है, वहीं केंद्र की नई नरेंद्र मोदी सरकार के सामने भी कई मांगें भी रखी हैं.

आम चुनावों में हार के बाद आम आदमी पार्टी में हाल के दिनों में ख़ासी उथल पुथल देखने को मिली. कई नेताओं ने इस्तीफ़े दिए तो कइयों ने केजरीवाल पर तानाशाह होने के आरोप लगाए.

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के बाद रविवार को केजरीवाल मीडिया से मुख़ातिब हुए.

केजरीवाल ने कहा, “हर स्तर पर पार्टी की मौजूदा समितियों का पुनर्गठन किया जाएगा. ऐसे लोगों को काम दिया जाएगा जो गांव गांव में घूम कर संगठन का निर्माण करेंगे.”

उन्होंने कहा कि पार्टी की नए सिरे से राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राजनीतिक मामलों की कमिटी बनेगी.

मोदी से मांग

केजरीवाल ने नरेंद्र मोदी को देश का नया प्रधानमंत्री बनने पर बधाई दी और उनके सामने कई मांगें रखीं.

गैस के दाम: केजरीवाल ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार मुकेश अंबानी को फ़ायदा पहुंचाने के लिए गैस के दाम दोगुने करना चाहती थी, लेकिन आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग से अपील करके उसे चुनाव तक रुकवा दिया था. केजरीवाल ने मीडिया रिपोर्टों का हवाला देते हुए कहा कि अब नई सरकार मुकेश अंबानी को फायदा पहुंचाने के लिए गैस के दाम दोगुने करने जा रही है. उन्होंने अपील की कि गैस के दाम न बढाएं जाएं क्योंकि इससे महंगाई बढ़ेगी.

रक्षा क्षेत्र में एफ़डीआई: केजरीवाल ने रक्षा क्षेत्र में 100 प्रतिशत एफडीआई को अनुमति देने की ख़बरों का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि अगर नई सरकार ऐसा करती है तो ये ग़लत होगा. उन्होंने कहा कि इससे भारत की रक्षा विदेशियों के हाथों में चली जाएगी.

पुणे की घटना: उन्होंने पुणे में एक मुस्लिम युवक की हत्या में एक हिंदूवादी संगठन का नाम आने का मुद्दा भी उठाया और ऐसे संगठनों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की मांग की.

बलात्कार: उन्होंने देश भर में बढ़ती बलात्कार की घटनाओं का ज़िक्र करते हुए कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए ठोस क़दम उठाए जाने चाहिए.

काला धन: उन्होंने विदेशों में जमा काला धन वापस लाने पर सरकार की तरफ़ से बनाई गई एसआईटी का स्वागत किया और उसे बाहर न जाने देने के लिए क़दम उठाने को भी कहा.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार