भूटान: मोदी के भाषण की दस ख़ास बातें

  • 16 जून 2014
भूटान के नरेश और उनकी पत्नी के साथ भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूटान की संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि हिमालय दोनों देशों की साझी विरासत है और इसके संरक्षण के लिए सबको मिलकर काम करना चाहिए.

मोदी ने हिंदी में अपना भाषण दिया और उनके भाषण का स्थानीय भाषा में अनुवाद किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पावर प्वाइंट प्रशासन

प्रधानमंत्री के भाषण की दस ख़ास बातें:

1- आतंकवाद दुनिया को बांटता है जबकि पर्यटन दुनिया को जोड़ता है.

2- भारत फ़ॉर भूटान, भूटान फ़ॉर भारत.

3- हिमालय हमें जोड़ता है.

4- हिमालयी क्षेत्र के राज्यों और देशों के बीच एक खेल स्पर्द्धा का आयोजन हो.

5- हिमालयी क्षेत्र के अध्ययन के लिए केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना पर विचार.

6- भारत के मज़बूत होने का पूरे भूखंड को फ़ायदा होगा.

7- पड़ोसी धर्म निभाना हमारा कर्तव्य है.

8- आख़िरी छोर पर बैठे व्यक्ति की ख़ुशहाली ही असली विकास.

9- जलविद्युत परियोजनाओं से दोनों देशों का फ़ायदा.

10- भूटान में लोकतंत्र की स्थापना सराहनीय क़दम.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार