इराक: 'अपहर्ताओं से बचकर भागा एक भारतीय'

  • 20 जून 2014
अगवा भारतीयों के रिश्तेदार इमेज कॉपीरइट Reuters

इराक में अगवा किए गए चालीस भारतीयों में से एक बचकर भागने में कामयाब रहा है, भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने इस बात की पुष्टि की है.

मोसूल शहर में पिछले दिनों 40 भारतीयों को अगवा किया गया था. ये लोग तारिक नूर अल हुदा कंपनी के कर्मचारी हैं.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरुद्दीन ने बताया कि इनमें से एक भारतीय बचकर निकलने में कामयाब रहा है और बग़दाद में भारतीय दूतावास के संपर्क में है. हालांकि उन्होंने इस बारे में अधिक जानकारी देने से मना कर दिया.

उन्होंने कहा कि सरकार इराक में अगवा भारतीयों को छुड़ाने की हर मुमकिन कोशिश कर रही है. उन्होंने दावा किया कि इराक में सभी भारतीय सुरक्षित हैं और जो लोग वापस आना चाहते हैं उन्हें आर्थिक मदद दी जाएगी.

'सभी विकल्प खुले'

उन्होंने कहा कि सरकार अगवा भारतीयों की रिहाई के लिए "इराक ही नहीं इराक के बाहर भी प्रत्यक्ष और परोक्ष सभी रास्तों पर काम कर रही है."

जब उनसे ये पूछा गया कि क्या सरकार इराक में फंसे भारतीयों को हवाई रास्ते से वापस लाने के विकल्प पर विचार कर रही है तो उन्होंने कहा कि "सभी विकल्प खुले हुए" हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

इराक में हिंसा प्रभावित इलाके से अब तक 16 भारतीयों को वापस लाया गया है. इनमें से आठ लोग बैजी में थे और आठ अनबार में भारतीय कंपनी लैंको की एक परियोजना में काम कर रहे थे.

इराक की स्थिति की समीक्षा के लिए शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बैठक भी की, इस बैठक में विदेश मंत्री, गृह मंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और कैबिनेट सचिव सहित कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार