मेरी सरकार को नहीं मिला हनीमून पीरियडः मोदी

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट NARENDRAMODI

अपनी सरकार के 30 दिन पूरे होने पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि उनकी सरकार को 'हनीमून पीरियड' मिला नहीं.

अपने ताज़ा ब्लॉग में मोदी ने लिखा है कि 'मीडिया के मित्र नई सरकार के शुरुआती कार्यकाल को 'हनीमून पीरियड' कहते हैं. उन्होंने कहा है कि उनसे पहले की सरकारों को यह सुविधा थी कि वे इस हनीमून पीरियड को सौ दिन तक या इससे भी ज़्यादा खींच सकते थे."

''लेकिन, जैसी की उम्मीद थी, मुझे यह सुख हासिल नहीं है. सौ दिन को तो भूल जाइए, सौ घंटे में ही आरोपों की झड़ी लग गई. लेकिन जब आप देश की सेवा के एकमात्र संकल्प के साथ काम करते हैं तो ये चीजें मायने नहीं रखतीं.''

उन्होंने लिखा है, ''उनके एक महीने के कार्यकाल को पूर्ववर्ती सरकारों के 67 वर्ष के शासन के मुक़ाबले नहीं आंका जा सकता है.''

प्रधानमंत्री ने अपने अनुभव के बारे में लिखा है, ''जब मैंने यह पद ग्रहण किया तो सोचता था कि मैं नया हूं और कुछ लोग मानते थे कि केंद्र सरकार की कार्यशैली समझने में मुझे कम से कम एक या हो सकता है कि दो साल भी लग जाएं लेकिन अब ऐसी बातें मेरे दिमाग में नहीं हैं.''

बेवजह विवाद

उन्होंने ब्लॉग में इस एक महीने के दौरान अपने मंत्रियों, अधिकारियों और राज्य के मुख्यमंत्रियों से मिलने का हवाला देते हुए उनके समर्थन का दावा किया है.

उन्होंने लिखा है, ''आने वाले समय में उनके साथ मिलकर काम करने की उम्मीद करता हूं.''

इमेज कॉपीरइट AFP

हालांकि मोदी ने कहा है कि सरकार में कुछ कमज़ोरियों हैं, ''... जिनमें सुधार की ज़रूरत है.''

उन्होंने कहा है, ''पिछले महीने कुछ ऐसी घटनाएं हुई हैं जिसका हमारी सरकार से कोई लेना देना नहीं था फिर भी ये विवाद होते रहे.''

अपने ब्लॉग में उन्होंने 26 जून की तारीख़ को इमरजेंसी से जोड़ते हुए लिखा है कि परीक्षा की उन घड़ियों की यादें आज भी उनके जेहन में ताज़ा हैं.

इमरजेंसी के संदर्भ में उन्होंने लिखा है, ''यदि हम बोलने और विचार रखने की आज़ादी की गारंटी नहीं दे सकते तो हमारा लोकतंत्र बना नहीं रह सकता.''

उन्होंने लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा करने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए लिखा है कि अच्छे प्रशासन से लोकतांत्रिक संस्थाओं को मज़ूबत किया जाएगा ताकि वे बुरे दिन दोबारा न लौटें.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार